यातायात नियमों का पालन करें : समस्त अधिकारीगण
यातायात माह के समापन पर पुलिस लाइन में समारोह आयोजित, यातायात के नियमों से जागरूक करने पर सड़क हादसों में आएगी गिरावट

 


गाज़ियाबाद। रविवार को रिजर्व पुलिस लाइन में यातायात माह नवंबर 2019 का समापन समारोह आयोजित किया गया है। जिसमें जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह, नगर आयुक्त दिनेश चंद्र, अपर जिलाधिकारी नगर शैलेंद्र कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन जितेंद्र कुमार शर्मा, अपर जिलाधिकारी वित्त यशवर्धन श्रीवास्तव एवं जनपद के गणमान्य व्यक्तियों के साथ-साथ जनपद के समस्त पुलिस अधीक्षक, क्षेत्राधिकारी एवं थाना प्रभारी व्यापार संगठन के पदाधिकारीगण, ट्रक, बस व ऑटो एसोसिएशन के पदाधिकारीगण तथा विभिन्न स्कूलों के लगभग 420 छात्र-छात्राएं सम्मिलित रही हैं। वहीं समारोह के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक यातायात के द्वारा अवगत कराया गया कि पूरे यातायात माह नवंबर 2019 के दौरान यातायात पुलिस के द्वारा ट्रैफिक इनफॉरसीमेंट के साथ-साथ ट्रैफिक अवेयरनेस प्रोग्राम व ट्रैफिक एजुकेशन पर भी विशेष ध्यान दिया गया।

स्कूल/कॉलेज में जाकर स्कूली बच्चों को तो यातायात के प्रति जागरूक भी किया ही गया है। साथ ही साथ समाज के अन्य वर्गों विभिन्न स्टेकहोल्डर्स के बीच में जाकर पूरे यातायात माह के दौरान लगभग 51 हजार स्कूली बच्चों व अन्य लोगों को यातायात नियमों की जानकारी देकर उन्हें यातायात नियमों का पालन करने हेतु जागरूक भी बनाया गया है। इसके साथ ही सैकड़ों ऑटो चालकों, सैकड़ों रोडवेज व प्राइवेट बसों के चालकों इंडस्ट्रियल एरिया में जाकर व्यवसायिक वाहन के चालकों, राजमार्गो के आसपास के निवासियों का प्रशिक्षण, स्कूली बच्चों की पेंटिंग प्रतियोगिता, सड़क दुर्घटनाओं में मृत व घायल व्यक्तियों की स्मृति में स्कूली बच्चों की जागरूकता रैली, यातायात नियमों, जिम्मेदार नागरिक पहल, जिम्मेदार स्कूल पहल, संबंधित पंपलेटों का वितरण आदि कार्यक्रम आयोजित कराए गए।

 हालांकि जागरूकता कार्यक्रम के साथ ही प्रवर्तन की कार्यवाही के अंतर्गत यातायात नियमों का पालन न करने वाले वाहन चालकों के विरूद्ध प्रभावी प्रवर्तन की कार्रवाई की गई है। वहीं प्रवर्तन की कार्रवाई के दौरान मुख्य रूप से बिना हेलमेट 14,082 चालान, दुपहिया वाहनों पर तीन सवारी 133 चालान, चार पहिया वाहनों में सीट बेल्ट ना लगाना 2156 चालान, बिना डीएल के वाहन चलाना 1045 चालान पर विशेष बल दिया गया है। इसके फलस्वरूप इस माह में जनपद पुलिस के द्वारा प्रवर्तन की कार्रवाई के अंतर्गत 34,787 चालान व 5 लाख 98 हजार 27शो रुपए का शमन शुल्क वसूल किया गया है। 

दरअसल प्रवर्तन की कार्रवाई में यातायात पुलिस के निम्नलिखित अधिकारियों द्वारा महत्वपूर्ण योगदान प्रदान करते हुए सर्वाधिक कार्रवाई की गई है। बता दें कि गत् वर्ष 2018 एवं वर्ष 2019 में माह जनवरी से माह नवंबर ट्रक का चालान समन शुल्क का विवरण कुछ इस तरह है, गत् वर्ष 2018 जनवरी से नवंबर तक 1,81,219 चालान व शमन शुल्क 2 करोड़ 69,34,180 तो वहीं, वर्ष 2019 जनवरी से नवंबर तक 3,28,683 चालान व शमन शुल्क 5 करोड़ 72 लाख 41 हजार 108 है। जबकि गत् वर्ष 2018 एवं 2019 में माह जनवरी से नवंबर तक सड़क दुर्घटनाओं का विवरण कुछ इस तरह से है, जिसमें 2018 में 942 दुर्घटनाएं हैं तो वहीं, 2019 में 825 दुर्घटनाएं है। जबकि 2018 में हुई दुर्घटनाओं में मृत्यु का विवरण 376 है तो वहीं, 2019 में 356 का आंकड़ा है।


  इसके अलावा वर्ष 2018 में सड़क दुर्घटना में हुए घायलों की संख्या 713 है तो वहीं, 2019 में 560 है। आपको बता दें कि सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में गत् वर्ष 2018 की अपेक्षा में 2019 में सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में 117 की कमी आई है तो वहीं, मृतकों की संख्या में भी 20 की कमी आई है। जबकि घायलों की संख्या में 153 की कमी वर्ष 2019 में आई है। 

गौरतलब है कि यातायात पुलिस के निम्नलिखित अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा यातायात माह के दौरान प्रवर्तन की कार्रवाई में महत्वपूर्ण योगदान प्रदान करते हुए सर्वाधिक कार्रवाई की गई है। जिसमें यातायात निरीक्षक परमहंश तिवारी ने 10 लाख 56,700 रुपए का समन शुल्क वसूला है तो वहीं, यातायात उपनिरीक्षक विनोद कुमार ने 3,67,700 रुपए का शुल्क, वहीं वरिष्ठ सिपाही अजीत सिंह ने 1,57,000 रुपए का शुल्क, चरण सिंह ने 1,14,000 का समन शुल्क वसूला है। इसके अलावा उपनिरीक्षक सुशील कुमार द्वितीय ने 698 चालान की है तो वहीं, वरिष्ठ सिपाही धर्मवीर सिंह ने 985 चालान किए है। 

बता दें कि यातायात/नागरिक पुलिस के उपरोक्त अधिकारियों को समापन समारोह के दौरान प्रशास्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया है। इसके अलावा 19 नवंबर, 21 नवंबर 2019 व 24 नवंबर 2019 को जन जागरण हेतु स्कूली छात्र-छात्राओं को एवं एनसीसी छात्र-छात्राओं की जागरूकता रेलिया, स्कूली छात्र-छात्राओं के माध्य चित्रकला, रंगोली, किवीज प्रतियोगिता का आयोजन सड़क सुरक्षा विषयक बाइकोत्थान रैली का आयोजन किया गया व सड़क दुर्घटना में मृतक व्यक्तियों की श्रद्धांजलि हेतु कैंडल मार्च का आयोजन भी किया गया हैं।

Comments