अर्थव्यवस्था की स्थिति को मनमोहन सिंह ने बताया चिंताजनक, कहा- 4.5% की GDP वृद्धि दर अस्वीकार्य

अर्थव्यवस्था की स्थिति को मनमोहन सिंह ने बताया चिंताजनक, कहा- 4.5% की GDP वृद्धि दर अस्वीकार्य












नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने देश की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की 4.5 प्रतिशत की वृद्धि दर को नाकाफी और चिंताजनक बताया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से समाज में 'गहराती आशंकाओं' को दूर करने और देश को फिर से एक सौहार्दपूर्ण तथा आपसी भरोसे वाला समाज बनाने का आग्रह किया जिससे अर्थव्यवस्था को तेज करने में मदद मिल सके।



अर्थव्यवस्था पर एक राष्ट्रीय सम्मेलन में अपना विदाई भाषण देते हुए सिंह ने कहा कि आपसी विश्वास हमारे सामाजिक लेनदेन का आधार है और इससे आर्थिक वृद्धि को मदद मिलती है। लेकिन 'अब हमारे समाज में विश्वास, आत्मविश्वास का ताना-बाना टूट गया है।'' उन्होंने कहा, ''हमारा समाज गहरे अविश्वास, भय और निराशा की भावना के विषाक्त संयोजन से ग्रस्त है।'' यह देश में आर्थिक गतिविधियों और वृद्धि को प्रभावित कर रहा है। साभार












Comments

Popular posts from this blog

अमेज़ॉन में हुआ काइट के 13 छात्रों का प्लेसमेंट, प्रत्येक छात्र को मिला 44.14 लाख का पैकेज

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी