अधिकतर दुर्घटनाएं यातायात नियमों का उल्लंघन करने के कारण घटित होती हैं- शैलेंद्र

जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न


अधिकतर दुर्घटनाएं यातायात नियमों का उल्लंघन करने के कारण घटित होती हैं- शैलेंद्र


वाहन चालक नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं उनके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही सुनिश्चित की जाए- एडीएम नगर



गाजियाबाद। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के निर्देशन में अपर जिला अधिकारी  नगर शैलेंद्र कुमार सिंह  की अध्यक्षता में मंगलवार को जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित हुई। इस अवसर पर उन्होंने जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में अध्यक्षता करते हुए विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनपद में सड़क दुर्घटनाओं में जनहानि को रोकने के लिए समस्त संबंधित विभागीय अधिकारियों के द्वारा अपने - अपने विभाग की कार्य योजना बनाकर उसे अंतिम रूप प्रदान किया जाए। ताकि सड़क दुर्घटनाओं में जनहानि को रोका जा सके। अतः सड़कों से जुड़ी हुई सभी एजेंसी पूरे जनपद में सड़क के गड्ढों को तत्परता के साथ ठीक करने की कार्रवाई करेंगे।
  उन्होंने समीक्षा करते हुए पाया कि सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली जनहानि में कमी आई है। अतः सभी अधिकारी गण आगे भी इसी प्रकार कार्य योजना बनाकर कार्य करें ताकि सड़क दुर्घटनाओं में कम से कम जनहानि संभव हो। उन्होंने पुलिस एवं परिवहन विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए स्पष्ट किया है कि अधिकतर दुर्घटनाएं यातायात नियमों का उल्लंघन करने के कारण घटित होती हैं। इसलिए संबंधित विभागीय अधिकारियों के द्वारा निरंतर रूप से पूरे जनपद में यातायात नियमों का कड़ाई के साथ पालन करने के उद्देश्य से अभियान चलाकर, जो वाहन चालक नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं, उनके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए, ताकि जनपद में सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारी को यह भी निर्देश दिए कि सार्वजनिक वाहनों से हुई दुर्घटनाओं से जुडे़ प्रकरणों के सम्बन्ध में पीड़ितों के आर्थिक सहायता के मामलों का निस्तारण तत्काल कराया जाए।
उन्होंने इस अवसर पर यह भी कहा कि जनपद के यातायात को सुगम बनाने में जन सामान्य की अहम भूमिका है। इसलिए परिवहन विभाग, पुलिस विभाग, शिक्षा विभाग के संयुक्त तत्वाधान में बड़े स्तर पर जागरूकता कार्यक्रम संचालित किया जाए। जागरूकता कार्यक्रम में स्कूली बच्चों के माध्यम से बड़े स्तर पर कार्यक्रम संचालित कराए जाएं, जिससे समस्त यातायात नियमों का पालन कर सकें। उन्होंनें जिला विद्यालय निरीक्षक एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को यह भी निर्देश दिया कि जिन स्कूलों में स्कूल वाहन एवं अनुबंधित वाहनों का संचालन किया जा रहा है। विद्यालय परिवहन सुरक्षा समिति की बैठकों का निरंतर रूप से आयोजन किया जाए।
आयोजित बैठकों में यह  ध्यान दिया जाए कि सभी बसों के द्वारा बच्चों की सुरक्षा को लेकर सभी मानक पूरे किए जा रहे हैं। उन्होंने यातायात को सुगम बनाने के उद्देश्य से सभी रेडलाइट, जेबरा क्रॉसिंग  तथा अन्य साइन बोर्ड एवं अन्य कार्यवाही विभागीय अधिकारियों के माध्यम से तत्काल प्रभाव से की जाए। उन्होंने इस अवसर पर यह भी कहा कि दुर्घटना की दृष्टि से जनपद में जो ब्लैक स्पॉट हैं वहां पर कम से कम दुर्घटनाएं संभव हो इसके लिए भी कार्य योजना बनाकर संबंधित अधिकारियों के द्वारा कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। आयोजित महत्वपूर्ण बैठक मे संबंधित अधिकारियों के द्वारा भाग लिया गया।


Comments