जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति दिशा की बैठक हुई सम्पन्न 

जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति दिशा की बैठक हुई सम्पन्न 



गाजियाबाद। शनिवार को विकास समन्वय एवं निगरानी समिति दिशा की बैठक माननीय सांसद जनरल डॉ वी0के0 सिंह राज्य मंत्री सड़क परिवहन एवं राजमार्ग भारत सरकार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित हुई। इस अवसर पर उन्होंने जनपद में चल रहे विकास कार्यों के प्रगति के संबंध में समीक्षा की।



उन्होंने कहा कि कार्य पूर्ण कराने के समय अवधि का इंतजार न करते हुए समय से पूर्व इन कार्यों को पूर्ण कराना सुनिश्चित करें जिससे लाभार्थियों को समय से पूर्व उसका लाभ प्राप्त हो सके, जिसके लिए अंतर विभागीय समन्वय बनाकर लाभार्थियों को लाभान्वित कराना सुनिश्चित कराएं। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि लाभार्थियों का चयन पारदर्शिता से करते हुए जमीनी स्तर पर कार्य कराना सुनिश्चित कराएं।


उन्होंने बाल विकास एवं पुष्टाहार योजना के अंतर्गत कुपोषित बच्चों को दिए जाने वाले भोजन मानकों के अनुरूप गुणवत्ता परक होने के निर्देश दिए। इस अवसर पर दीन दयाल उपाध्याय कौशल विकास योजना के द्वारा संचालित केंद्रों के बारे में जानकारी प्राप्त करते हुए उन्होंने कहा कि इन केंद्रों से प्रशिक्षित युवक व युवतियों को सरकारी व गैर सरकारी क्षेत्रों में कितने रोजगार मिले हैं उनकी समीक्षा नियमित रूप से होती रहनी चाहिए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि ग्रामीण क्षेत्र में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों की गुणवत्ता की परख के लिए स्थानीय प्रधानों द्वारा उनके नियमित संचालन एवं गुणवत्ता के संदर्भ में प्रमाण पत्र प्राप्त करते हुए उनकी समीक्षा करें।



उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण विद्युतीकरण योजना में नियमित रूप से समीक्षा करते रहे कि सभी तार, ट्रांसफार्मर एवं उपकरण चुस्त-दुरुस्त है कि नहीं, अगर नहीं है तो उन्हें ससमय दुरुस्त किया जाए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों मैं विद्युतीकरण करते समय बिजली के पोलों को ऐसे स्थान पर लगाना सुनिश्चित करें कि भविष्य में सड़क निर्माण या अन्य योजनाओं में वह बाधक न बन पाए। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देशित करते हुए कहा कि कूड़ा निस्तारण में  अपशिष्टो का प्रबंधन कराना सुनिश्चित करें और  अपशिष्टो को एन एच ए आई के कॉन्ट्रैक्टरो उपलब्ध कराएं ताकि इसका उपयोग सड़क निर्माण  में किया जा सके।


एनएचएआई के अधिकारियों को निर्देशित किया कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्यों में गति प्रदान कर ससमय इसे पूर्ण कराना सुनिश्चित करें जिससे शासन की योजनाओं का लाभ आमजन को मिल सके। उन्होंने एल0डी0एम0 को निर्देशित करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में बैंक की शाखा खोलकर ग्राम वासियों को बैंकिंग सेक्टर से जोड़कर उन्हें शासन व प्रशासन की ओर से मिलने वाली सुविधाओं से लाभान्वित करें। उन्होंने परिवहन अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि सड़कों पर चलने वाले अनाधिकृत ई-रिक्शा पर अंकुश लगाना सुनिश्चित करें इससे यातायात व्यवस्था में बाधा उत्पन्न नहीं होगी।


उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों की सड़कों को चुस्त दुरुस्त रखना सुनिश्चित कराएं। उन्होंने शासन द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि उज्ज्वला योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन योजना, जननी सुरक्षा योजना, शिशु सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना, अमृत योजना, सर्व शिक्षा अभियान योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका योजना एवं स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण योजना के अंतर्गत हो रहे निर्माण कार्यों में गतिशीलता प्रदान करें। 
इस अवसर पर माननीय मंत्री चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अतुल गर्ग, माननीय सांसद राज्यसभा अनिल अग्रवाल, उपाध्यक्ष गाजियाबाद विकास प्राधिकरण, नगर आयुक्त, मुख्य विकास अधिकारी सहित सभी विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे।


Comments