निर्भया कांड के दोषीयों को समय रहते सज़ा दिलाई होती तो शायद यह घटना ना होती 

निर्भया कांड के दोषीयों को समय रहते सज़ा दिलाई होती तो शायद यह घटना ना होती  


बलात्कारीयों को फास्ट ट्रैक कोर्ट से तुरंत मिले सजा


30 दिन के अंदर अपराधी को मिले मौत की सजा



महताब पठान कांग्रेस नेता


आज बच्चीयो से बलात्कार के बाद हत्या जैसी घिनौनी हरकत हो रही है और सरकार ऐसे चुप है कि कुछ हुआ ही नहीं है। नोट बन्दी रातोंरात, जीएसटी रातोंरात, जबर्दस्ती  सरकार बनानी हो तो रातोंरात फैसले लेने वाली सरकार बच्चीयों पर हो रहे जुल्म के खिलाफ कोई फैसला लेने में दिन में भी सो रही है। अगर एक बच्ची साहस करके संसद परिसर के बाहर आवाज उठाने आई तो उसकी  पुलिस द्वारा पिटाई करा दी जाती है। आज  माता-पिता अपनी बच्चीयों के भविष्य को  लेकर परेशान है। एक डर लगा रहता है कि कहीं कुछ अनहोनी ना हो जाए। मेरी सरकार से गुजारिश है अगर  तीन तलाक पर कानून बनाया जा सकता है तो बलात्कार पर भी कानून बनाया जा सकता है। क्यों सख्त कानून बनाने से पीछे हट रही है सरकार।


निर्भया कांड  को मुद्दा बनाने वाले आजतक इन्साफ नहीं दिला पाए। पिछले वर्षों से निर्भया कांड के दोषीयों की फाईल राष्ट्रपति जी के पास विचाराधीन है। अगर समय रहते दोषियों को सजा मिली होती तो शायद यह घटना ना होती। आज जरूरत है सख्त से सख्त कानून बनाने की।


Comments