सरकार विदेशों के दबाव में ले रही है किसान विरोधी फैसले: राकेश टिकैत

प्रेस क्लब के पत्रकारों को किया गया सम्मानित

 


 

सहारनपुर। भारतीय किसान यूनियन के जन जागरण अभियान के तहत नागल में आयोजित तहसील स्तरीय किसान पंचायत में भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग लागू कर किसानों को समाप्त करना चाहती है।

यदि हमारा संगठन मजबूत होगा तो सरकार को किसान विरोधी फैसले लेने से रोका जा सकेगा।

भाकियू नेता राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों को स्वयं चिंतन करना होगा कि हमारे गन्ने का भुगतान क्यों नहीं हो रहा है। खाद, बिजली व पानी सब महंगें हैं। किसान को लोन देकर उसकी जमीन को गिरवी रखकर उसे कंगाल किया जा रहा है। सरकार कृषि उपज के भाव नहीं बढ़ा रही है तथा दूध और फल को भी प्रतिबंधित करने की तैयारी है। विगत माह सरकार दूसरे देशों से दूध समझौता कर रही थी। जिससे विदेशी कंपनी गांव में आकर अपना दूध 30 लीटर बेचती तथा हम अपने दूध को लाइसेंस लेकर ही बेच पाते। 

उन्होंने कहा कि इसी तरह सरकार बीज कानून लाने की भी तैयारी कर रही है। यदि यह समझौता लागू हुआ तो हम अपना बीज नहीं बो सकेंगे। सरकारी कंपनी से बीज लेकर ही खेती करनी होंगी। उन्होंने कहा कि सरकार बड़ी कंपनियों को लाइसेंस देखकर पटरी, खोमचा व रेहड़ी वालों को भी समाप्त कर रही है। जिससे करीब साढ़े चार करोड़ परिवार जुड़े हैं। वह सब मजदूर हो जाएंगे और विदेशी दबाव में सरकार गन्ने का भाव 50 रुपए प्रति कुंतल कम करने की भी तैयारी कर रही है। 

उन्होंने बताया कि 21 दिसंबर को भारतीय किसान यूनियन प्रदेशभर में किसान हल क्रांति आंदोलन करेगी। जिसके तहत सभी जिला मुख्यालयों पर किसान अपने कृषि यंत्र लेकर प्रदर्शन करेंगे तथा अपनी मांगों को लेकर एक ज्ञापन देते हुए सरकार को अपनी ताकत का एहसास कराएंगे। यदि किसानों के साथ कुछ गलत किया गया तो किसान ईंट से ईंट भी बजा सकते हैं। 

भाकियू के प्रदेश उपाध्यक्ष चौधरी विनय कुमार ने कहा कि सरकार किसानों को कोर्ट का आदेश दिखाकर पराली व फसलों के अवशेष जलाने से रोक रही है। जबकि सरकार कोर्ट के उस आदेश का पालन नहीं कराती जिसमें 14 दिन के अंदर किसानों के गन्ने का भुगतान कराना है। ऐसे में यदि कोई हमें पराली जलाने से रोकता है तो उससे भी हमें अपने तरीके से निपटना होगा। 

पंचायत में भाकियू प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सरदार मनमोहन सिंह, अरुण राणा, रामकुमार वालिया, नवाब सिंह, चौधरी चरण सिंह, जगपाल सिंह, राजपाल पनियाली, रणवीर सिंह आदि नें भी अपने विचार रखे। इससे पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत का हाईवे स्थित चौधरी पेट्रोल पंप पर जोरदार स्वागत किया गया, उसके बाद ढोल नगाड़ों की थाप पर नाचते गाते किसान उन्हें सभा स्थल तक ले गए। 

कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने प्रेस क्लब नागल के संयोजक संजीव विश्वकर्मा, संरक्षक राजकुमार शर्मा, अनुज स्वामी, प्रेस क्लब नागल के अध्यक्ष ओमप्रकाश जैन, अजय अग्रवाल, राहुल नौसरान, अशोक रोहिला, वली मोहम्मद अंसारी को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया। इस दौरान योगेंद्र पप्पू, आलोक चौधरी, संजील चौधरी, सुशील प्रधान, राजेश खन्ना, विजेंद्र काला, अशोक, सतबीर, रविंद्र प्रधान नन्हेड़, रजनीश नौसरान, पिरथी सिंह, इमरान, अनुज सोमवाल, आजाद सिंह, स्वतंत्र चौधरी आदि मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

अमेज़ॉन में हुआ काइट के 13 छात्रों का प्लेसमेंट, प्रत्येक छात्र को मिला 44.14 लाख का पैकेज

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी