तीसरी सरकार अभियान के अंतर्गत हर्रा कॉलेज में ग्राम संसद कार्यक्रम का आयोजन

तीसरी सरकार अभियान के अंतर्गत हर्रा कॉलेज में ग्राम संसद कार्यक्रम का आयोजन



सरूरपुर। पंचायत सशक्तिकरण तीसरी सरकार अभियान के अंतर्गत पंचायतों के समग्र विकास के लिए गुडविन इण्टर कॉलेज हर्रा के सभागार में  ग्राम संसद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें वक्ताओं ने गांव में पंचायत राज को मजबूत करने एवं जागरूक समाज की निर्णय में साझेदारी को लेकर जानकारी दी।



हर्रा स्थित गुडविन इण्टर कॉलेज में ब्लाक सरूरपुर की विभिन्न ग्राम पंचायतों के प्रतिनिधि एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए परिक्षेत्र मेरठ के क्षेत्रीय समन्वयक प्रमोद चौधरी ने कहा कि आजादी के बाद जब देश का संविधान बनना तय हुआ तभी महात्मा गांधी ने जमीनी स्तर पर आजादी व लोकतंत्र को आम आदमी के जीवन का उपयोगी अंग बनाने के लिए पंचायतो को आधार के रूप में लेने की बात की थी। किन्तु पूर्व सरकारों की उदासीनता और ग्रामीणों की जागरूकता के अभाव में यह संभव नहीं हो सका। जिसके कारण अभी भी पंचायतों में आम सहभागिता की कमी है। इसलिए पूरे प्रदेश में ग्रामीण जनता को जागरूक करने के लिए ग्राम संसद कार्यक्रर्मों द्वारा लोगों की पंचायतों में सहभागिता सुनिश्चित करने का प्रयास किया जा रहा है। जिसके चलते ग्राम, जिला और राज्य स्तर पर पंचायत पार्लियामेंट का आयोजन किया जा रहा है। जिसे लेकर जनपद मेरठ में 19 दिसम्बर को जिला स्तरीय पंचायत पार्लियामेंट का आयोजन किया जाएगा। जिसमे गांव के महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा होगी।



इस दौरान विभिन्न मुद्दों ग्राम संसद के उद्देश्य, पंचायतों की वर्तमान स्थिति पर चर्चा, ग्रामीण नेतृत्व विकास, कलस्टर स्तर पर मुद्दों की पहचान, जिला पंचायत पार्लियामेंट हेतु प्रतिनिधियों की पहचान, आदि मुद्दों पर चर्चा की गई। वहीं जिला आयोजन समिति के सदस्य राशिद अल्वी ने बताया कि प्रत्येक गांव से 5 जागरूक लोगों को अभियान के प्रति जागरूक किया जाएगा। जो ग्राम पंचायत विकास योजना बनवाकर गांव के समग्र विकास के हिस्सेदार बनेंगे। इस अवसर पर गौरव चौधरी, दीन मौहम्मद चौहान, कासिम, अंकुर, आदि उपस्थित रहे।


Comments