विधिक साक्षरता दिवस में मध्यस्था केंद्र, लोक अदालत, निशुल्क वकील की सेवाओं के बारे में दी गई जानकारी

विधिक साक्षरता दिवस में मध्यस्था केंद्र, लोक अदालत, निशुल्क वकील की सेवाओं के बारे में दी गई जानकारी



गाज़ियाबाद। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं जनपद न्यायाधीश गाजियाबाद के निर्देशन में रत्नेश कमलदीप आनंद सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के आदेश पर तहसील विधिक सेवा समिति, तहसील सदर गाजियाबाद के क्षेत्राधिकार में ग्राम भोवापुर दुर्गा माता मंदिर धर्मशाला, सेवा नगर, वृद्धा आश्रम दुहाई गाजियाबाद में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता श्रम प्रवर्तन अधिकारी, श्रम विभाग एवं मुकेश सैनी जेल विजिटर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण गाजियाबाद ने की। संचालन शहजाद अली ने किया। शिविर में उपस्थित महेश यादव मोदीनगर ने श्रमिक विधियां, मध्यस्था केंद्र, लोक अदालत, निशुल्क वकील की सेवाएं, आदि के संबंध में उपस्थित जनता को जागरूक किया।



राजस्व निरीक्षक तहसील सदर गाजियाबाद के द्वारा तहसील स्तर से संचालित योजनाओं के बारे में जागरूक किया। अभिषेक कुमार समन्वय अधिकारी, कॉमन सर्विस सेंटर गाजियाबाद ने प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के अंतर्गत, निशुल्क कंप्यूटर प्रशिक्षण, एवं  नेशनल पेंशन स्कीम, सीएससी पर संचालित आदि योजनाओं की जानकारी दी। बीगिरी ने (भूत पूर्व प्रबंधक सिंडिकेट बैंक) वित्तीय ज्ञान ज्योति साक्षरता केंद्र वित्तीय साक्षरता की जानकारी दी।   शिविर का संचालन कर रहे शहजाद अली ने टैली ला योजना, उत्तर प्रदेश पुलिस के द्वारा संचालित यूपी cop एप्स एवं जनसुनवाई ऐप की जानकारी उपलब्ध कराई।


शिविर में उपस्थित डॉ0 रितु वर्मा व डॉक्टर संगीता नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सेवा नगर गाजियाबाद के द्वारा आयुष्मान योजना की जानकारी उपलब्ध कराई गई। शिविर की अध्यक्षता कर रहे मुकेश सैनी जेल विजिटर एवं श्रम प्रवर्तन अधिकारी श्रम विभाग गाजियाबाद के द्वारा प्लास्टिक बंद करने की शपथ दिलाते हुए, उत्तर प्रदेश भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार बोर्ड के द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी दीगई। इस मौके पर अलग-अलग स्थानों पर लगभग 70 प्रधानमंत्री श्रम योजना, योगी मानधन योजना के कार्ड एवं 50 से  60 कार्ड आयुष्मान  योजना के अंतर्गत बनाए गए। शिविर में उपस्थित जिला समाज कल्याण अधिकारी व वृद्धा आश्रम के कर्मचारी एवं अधिकारी गण उपस्थित रहे।


Comments