औद्योगिक विकास की दृष्टि से गाजियाबाद अत्यंत महत्वपूर्ण जनपद

संबंधित अधिकारीगण  जनपद के औद्योगिक विकास को आगे बढ़ाने में  उद्यमियों का  करें पूर्ण सहयोग,  निर्धारित समय अवधि पर उद्यमियों की विभिन्न समस्याओं एवं  कठिनाइयों का  किया जाए निराकरण


जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय  ने कलेक्ट्रेट के सभागार में  मासिक उद्योग बंधु  की बैठक में अध्यक्षता करते हुए  संबंधित अधिकारियों को दिए कड़े निर्देश


गाज़ियाबाद। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय की अध्यक्षता में आज जिला स्तरीय उद्योग बंधु की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित हुई। इस अवसर पर जिला अधिकारी अजय शंकर पांडेय ने उद्योगों से जुड़े हुए अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद के औद्योगिक विकास को और अधिक आगे बढ़ाने के उद्देश्य से मासिक उद्योग बंधु बैठक एक महत्वपूर्ण प्लेटफार्म है। मासिक उद्योग बंधु में उद्यमियों की जो समस्याएं एवं कठिनाइयां प्राप्त हो रही हैं संबंधित अधिकारियों के द्वारा सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर सरकार की मंशा के अनुरूप निराकरण करने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए ताकि जनपद गाजियाबाद का औद्योगिक विकास और अधिक गतिशीलता के साथ आगे बढ़ सके।



बैठक में अतिक्रमण संबंधी प्रकरण पर जिलाधिकारी द्वारा माह फरवरी 2020 में रोस्टर तैयार कर त्वरित कार्यवाही कराए जाने हेतु नगर निगम को निर्देशित किया गया। नगर निगम से संबंधित अन्य समस्याओं पर बैठक में उपस्थित अपर नगर आयुक्त द्वारा अवगत कराया गया कि दिनांक 31 जनवरी 2020 को स्वच्छता सर्वेक्षण अभियान के उपरांत नगर निगम से संबंधित समस्याओं का प्रभावी निराकरण कराया जाएगा। औद्योगिक क्षेत्रों में पानी की उपलब्धता के संबंध में जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि उक्त हेतु नगर निगम, गाजियाबाद विकास प्राधिकरण, जल निगम, यूपीएसआईडीसी एवं जनपद के प्रमुख औद्योगिक संगठनों के साथ एक कमेटी गठित की जाए। जिलाधिकारी  द्वारा कमेटी हेतु समन्वयक के रूप में  नगर आयुक्त, नगर निगम गाजियाबाद को नामित किया गया है। उन्होंने निर्देश दिए कि कमेटी द्वारा किए गए कार्य की प्रत्येक सप्ताह समीक्षा बैठक की जाए। जनपद में ट्रांसपोर्ट नगर बनाए जाने संबंधी प्रकरण पर बैठक में उपस्थित गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि उनके द्वारा ग्राम कनौजा एवं मटियाला के पास ट्रांसपोर्ट नगर की स्थापना हेतु भूमि का निरीक्षण  किया गया है, जिसके लिए प्रस्ताव बनाकर शासन से भी अपेक्षित बजट की मांग की जा रही है। इसके लिए भूमि अधिग्रहण कर लिया जाता है तो ट्रांसपोर्ट नगर बनाया जाएगा।  साथ ही गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के अधिकारियों द्वारा अनुरोध किया गया कि औद्योगिक संगठन यूपीएसआईडीसी से उनके औद्योगिक क्षेत्र में ट्रांसपोर्ट व्यवस्था सुनिश्चित करा दे तो समस्या का समाधान हो सकता है। किंतु औद्योगिक संगठन द्वारा उक्त पर असहमति  व्यक्त करते हुए गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के अधिकारियों से अनुरोध किया गया कि उक्त ट्रांसपोर्ट नगर की मांग जनपद गाजियाबाद में लगभग 10 वर्ष से की जा रही है तथा गाजियाबाद विकास प्राधिकरण अथवा प्रशासन अपने स्तर पर ही भूमि  चिन्हकित कर जनपद में कहीं भी ट्रांसपोर्ट नगर की स्थापना कराएं जिस पर जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि समस्त संबंधित विभाग ट्रैफिक की समस्याओं से निजात दिलाने के उद्देश्य से शीघ्र समस्या का निस्तारण कराएं। जनपद के औद्योगिक क्षेत्रों में सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गाजियाबाद द्वारा अवगत कराया गया कि उनके द्वारा उद्यमियों एवं व्यापारियों की सुरक्षा हेतु एक स्पेशल सेल का निर्माण कराया जा रहा है, जिस पर शिकायत दर्ज कराने हेतु एक नंबर जारी किया जाएगा। उक्त नंबर पर कोई भी उद्यमी अथवा व्यापारी अपनी समस्या पंजीकृत करा सकता है जिसका तत्काल प्रभावी निस्तारण कराया जाएगा। जिलाधिकारी द्वारा औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधियों से अनुरोध किया गया कि वे अपने क्षेत्र की समस्त औद्योगिक इकाइयों को पीएनजी पर कन्वर्ट करा लें जिससे कि जनपद में प्रदूषण का स्तर कम हो सके । साथ ही आईजीएल को निर्देशित किया गया कि वे शीघ्र औद्योगिक क्षेत्रों में कार्यशाला का आयोजन कर कनेक्शन की उपलब्धता सुनिश्चित कराएं।  जिलाधिकारी द्वारा उद्योग संगठनों से अपेक्षा की गई कि वे जनपद में प्रदूषण से संबंधित नीरी द्वारा एक परीक्षण करा लें जिसके आधार पर प्रदूषण को रोकने संबंधी उपाय किए जा सके। उक्त पर औद्योगिक संगठनों द्वारा सहमति व्यक्त करते हुए नीरी से परीक्षण कराने का आश्वासन दिया गया। जिलाधिकारी द्वारा समस्त प्रकरणों पर प्रभावी कार्यवाही कर सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए 1 सप्ताह के अंदर अनुपालन आख्या उनके सम्मुख प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी, आरएन पांडे अपर नगर आयुक्त, वीरेंद्र कुमार उपायुक्त उद्योग, विश्वजीत राय सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी, मुख्य अग्निशमन अधिकारी, अधीक्षण अभियंता विद्युत वितरण मंडल लोनी, अधीक्षण अभियंता विद्युत नगरीय, सहायक स्टांप आयुक्त गाजियाबाद, क्षेत्रीय अधिकारी उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, क्षेत्रीय प्रबंधक यूपीएसआईडीए एवं जनपद के विभिन्न विभागों के अधिकारियों तथा विभिन्न औद्योगिक संगठनों के पदाधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।


Comments