कलेक्ट्रेट के सभागार में गणतंत्र दिवस का मुख्य कार्यक्रम जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय की अध्यक्षता में संपन्न

राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा कलेक्ट्रेट प्रांगण में निर्धारित समय पर किया गया झंडारोहण, सामूहिक राष्ट्रगान में लिया भाग


गाज़ियाबाद। विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी पूरे जनपद में गणतंत्र दिवस का पर्व बहुत ही उल्लास, उत्साह एवं परंपरागत ढंग से मनाया गया। स्कूली बच्चों के द्वारा प्रभात फेरिया पूरे जनपद में निकाली गई और भारतीय संविधान का संदेश जन-जन तक पहुंचाने का कार्य किया गया। गणतंत्र दिवस का मुख्य कार्यक्रम कलेक्ट्रेट में संपन्न हुआ। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा 71 वे गणतंत्र दिवस के अवसर पर झंडारोहण निर्धारित समय पर किया गया तदोपरांत सामूहिक राष्ट्रगान में भाग लिया गया।



गणतंत्र दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय तथा अन्य अधिकारियों के द्वारा एवं वृक्षारोपण का कार्यक्रम आयोजित करते हुए पौधारोपण भी किया गया। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा इस अवसर पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों को संविधान का संकल्प भी दिलाया गया। तदोपरांत कलेक्ट्रेट के सभागार में मुख्य कार्यक्रम आयोजित हुआ यहां पर जिलाधिकारी ने कहा कि प्रदेश सरकार पूरे प्रदेश के समग्र विकास हेतु कृत संकल्प है और इस दिशा में गंभीरता से प्रयास किए जा रहे हैं। लेकिन जनपद स्तर पर जब तक विकास कार्यों का गुणवत्तापूर्ण क्रियान्वयन नहीं होगा तब तक प्रदेश स्तर पर शासन की मंशा के अनुरूप विकास परिलक्षित नहीं होगा। अतः जनपद स्तर व अन्य निचले स्तर के विकास कार्यों में संलग्न सरकारी अधिकारी/कर्मचारी पूरी निष्ठा व ईमानदारी से कार्य करके प्रदेश के विकास में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट सभागार में गणतंत्र दिवस के अवसर पर झंडारोहण के पश्चात आयोजित एक कार्यक्रम में उपस्थित अधिकारी/कर्मचारियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि प्रशासन की अपनी कार्यशैली के कारण आमजन में एक अलग पहचान बनी हुई है और आम जनता में विश्वास बना हुआ है। सभी अधिकारी/कर्मचारी अपने कर्तव्यों को सेवा भाव से निर्वहन करें। आम जनता की समस्याओं को संवेदनशीलता व गंभीरता से सुन कर उनका निस्तारण सुनिश्चित कराएं।उन्होंने कहा कि आज गणतंत्र दिवस पर सभी संकल्प ले कि अपने शासकीय कर्तव्य और दायित्व का निर्वहन पूरी निष्ठा और लगन से करके देश व प्रदेश के विकास में अपना महत्वपूर्ण योगदान देंगे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आज का दिन हम सभी के लिए संकल्प लेने व चिंतन करने का दिन है। हम सभी चिंतन करके देखें कि देश किन मामलों में अभी भी पिछड़ा है और इस पिछड़ेपन को दूर करने के लिए संकल्प लेकर सामूहिक रूप से उन कमियों का निराकरण करें और राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान दें।



उन्होंने राष्ट्र धर्म को सबसे बड़ा धर्म बताते हुए इसका पालन पूरी ईमानदारी एवं समर्पण भावना से करने की जरूरत बताई। जिलाधिकारी द्वारा इस अवसर पर संविधान में उल्लिखित संकल्प का स्मरण कराया गया। इसके उपरांत जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट परिसर में वृक्षारोपण किया और भारत की आजादी में अपना योगदान देने वाले शहीदों की शहादत को याद किया। इस अवसर पर स्कूली बच्चों के द्वारा भारत के संविधान पर प्रकाश डालते हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए। जिलाधिकारी द्वारा गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर कांवड़ यात्रा में अपनी ड्यूटी के दौरान अच्छा कार्य करने के फल स्वरुप सब इंस्पेक्टर तरुणा सिंह को सम्मानित किया गया। यहां पर जिला अधिकारी के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने वाले बच्चों को भी पुरस्कृत किया। कार्यक्रम का सफल संचालन कलेक्ट्रेट के नाजिर असगर अहमद के द्वारा किया गया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन जेके शर्मा, अपर जिलाधिकारी नगर शैलेंद्र कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व यशवर्धन श्रीवास्तव, सिटी मजिस्ट्रेट सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारीगण एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे।


Comments