मनुष्य के अंधकारमय जीवन को रोशन करती है सच्चाई की रोशनी

मनुष्य के अंधकारमय जीवन को रोशन करती है सच्चाई की रोशनी

 


 

जब मनुष्य जीवन के अंधकार में खो जाता है तो उसे किसी एक ऐसी रोशनी की जरूरत पड़ती है जो उसके जीवन को रोशनमय कर दे। और वह रोशनी सिर्फ सच्चाई से ही उसको प्राप्त हो सकती है। अतः सच्चाई एक ऐसी रोशनी है जो जीवन के अंधकार को पूर्ण रूप से खत्म करके मनुष्य के जीवन में रोशनी ही रोशनी फैला देती है। अतः सच्चाई जीवन की वह रोशनी है जो जीवन के अंधकार को दूर करती है। सच्चाई एक ऐसी मशाल है जिसको साथ लेकर व्यक्ति अंधकारमय रास्ते पर चले तो उसका जीवन सच्चाई की रोशनी से भर जाएगा। विश्व के महान संतों और ऋषि-मुनियों ने सच्चाई के पथ को चुना इसीलिए उनका जीवन सच्चाई की रोशनी से भर गया। उनके रास्तों पर झूठ के अंधकार का साया भी पड़ा लेकिन सच्चाई की रोशनी ने उनके रास्ते को रोशन कर दिया। जिससे वह व्यक्ति महान बनकर विश्व के इतिहास में हमेशा के लिए अपना नाम छोड़ गए। गांधी जी ने अपने जीवन में हमेशा सच को ही अपना अस्त्र बनाया और इसी सच्चाई की रोशनी से उन्होंने अपना पूरा जीवन रोशन रखा। उनके जीवन में अनेक कठिनाइयां आईं। लेकिन उन्होंने अपने जीवन को सच की रोशनी से हमेशा रोशन किया और इसी रोशनी से उन्होंने देश को आजादी दिला कर रोशन कर दिया। जब व्यक्ति के जीवन में अंधकार छाने लगता है तो व्यक्ति अपने जीवन से घबराने लगता है। ऐसी स्थिति में यदि मनुष्य सच्चाई की रोशनी को अपने जीवन में लाए तो उसका जीवन सुधर जाता है और वह महान बनता है। कितने ही महान व्यक्ति जैसे महात्मा बुद्वारा, महावीर जैन, गुरु नानक और अनेक पैगंबर इस धरती पर आए और अपने जीवन में हमेशा सच को ही अपनाया और उसी सच्चाई की रोशनी से अपना जीवन जिया और हमेशा के लिए महान बन गए। मनुष्य झूठ बोल कर अपने जीवन को अंधकारमय बना लेता है लेकिन एक सच से व्यक्ति अपने जीवन को सुधार सकता है। इसलिए व्यक्ति को अपने जीवन में हमेशा सत्य को ही अपनाना चाहिए।

 

Comments

Popular posts from this blog

अमेज़ॉन में हुआ काइट के 13 छात्रों का प्लेसमेंट, प्रत्येक छात्र को मिला 44.14 लाख का पैकेज

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी