सरकार जनता की सभी आवाजों को घोटकरं कर निरंकुश होकर उनकी नीतियों का विरोध करने वालों का कर रही है दमन : निजाम चौधरी

सरकार जनता की सभी आवाजों को घोटकरं कर निरंकुश होकर उनकी नीतियों का विरोध करने वालों का कर रही है दमन : निजाम चौधरी



मुरादनगर। "सरकार जनता की सभी आवाजों को घोटकरं कर निरंकुश होकर उनकी नीतियों का विरोध करने वालों का हर तरह से दमन करने में लगी हुई है। यदि सरकार की यही कार्यप्रणाली रही तो यह भविष्य के लिए अच्छा नहीं होगा।" यह कहना है मुरादनगर हैंडलूम पावर लूम मजदूर एसोसिएशन के अध्यक्ष निजाम चौधरी का। चौधरी ने कहा है कि देश समाज हमारे लिए महत्वपूर्ण है लेकिन पुलिस द्वारा 20 दिसंबर को लेकर लोगों की उत्पीड़न की कार्रवाई बर्दाश्त करने लायक नहीं है। निजाम ने कहा कि मुरादनगर थाने से लोगों को फर्जी मामलों में फंसा कर जेल भेजा जा रहा है।


उन्होंने कहा कि एनआरसी जैसे मुद्दे स्थानीय नहीं होते लेकिन भाजपा उन्हें उसी स्तर पर बनाने का प्रयास कर रही है। वही उसके लिए घातक होगा। उन्होंने कहा कि मुरादनगर से समाजवादी पार्टी के नेता डॉ० अबरार अल्वी, हाजी परवेज चौधरी जैसेे आदि लोगों का इस मामले में उत्पीड़न हो रहा है। इसके अलावा अन्य लोगों को भी पुलिस परेशान कर रही है। जबकि उनका इस मामले से कोई मतलब नहीं था। उन्होंने इस मामले में गृहमंत्री को भी पत्र लिखकर निष्पक्ष व निर्भीक जांच कराने की मांग करते हुए कहा है कि पार्टियों के नाम पर गिरफ्तारी हो। यह बताएं कितने लोगों को उन्होंने ऐसे गंभीर मसले में जेल भेज दिया है। निजाम ने कहा कि सरकारें देश चलाने, बचाने और देशवासियों की रक्षा के लिए होती हैं। लेकिन यह सरकार फास्टेस्ट वादी नीतियों पर चलते हुए उत्पीड़न की कार्रवाई पर उतर आई है जो कि निंदनीय है। उन्होंने मांग की है कि पुलिस प्रशासन गृह मंत्रालय सभी स्थितियों को ध्यान में रखकर के कार्रवाई कर निर्दोष लोगों के उत्पीड़न से बचाएं।


Comments