सरकार के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के अंतर्गत बालिकाओं का  उत्साह बढ़ाने के उद्देश्य से  जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय का बड़ा प्रयास

सरकार के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के अंतर्गत बालिकाओं का  उत्साह बढ़ाने के उद्देश्य से  जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय का बड़ा प्रयास


इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम के अंतर्गत 9 बालिकाओं का चयन करते हुए भविष्य में वह जो बनना चाहती हैं उसका उन्हें अनुभव कराने के उद्देश्य से अधिकारियों का प्रतीकात्मक रूप से कार्य सौपते हुए कराया गया कार्य


विभिन्न पदों पर  अधिकारियों के द्वारा किस प्रकार से किया जाता है कार्य उस संबंध में  कराया गया अनुभव



गाज़ियाबाद। सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत जनपद की बालिकाओं का उत्साहवर्धन करने के उद्देश्य से जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा आज अविरल प्रयास करते हुए 9 बालिकाओं का चयन किया गया और भविष्य में वह जो बनना चाहती हैं संबंधित पदों पर प्रतीकात्मक स्वरूप से उन्हें संबंधित अधिकारियों के साथ कार्य सिखाया गया ताकि उन्हें संबंधित अधिकारी पदों का अनुभव महसूस हो सके और उनका उत्साह वर्धन होकर भविष्य में वह अपनी उड़ान भर सकें।



जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के निर्देशन में मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल द्वारा आज जनपद की 9 स्कूली छत्राओं को चयनित किया है जोकि भविष्य में जो बनना चाहती है उन्ही के हिसाब से उन अधिकारियों के साथ अपना एक दिन बिताएंगी। इसी श्रंखला में  वह एक दिन के लिए आई0ए0एस0, आई0पी0एस0, डॉक्टर, जज आदि के साथ रहेंगी। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय द्वारा 9वी कक्षा में पढ़ने वाली साक्षी को आज 2 घंटे के लिए गाजियाबाद का प्रतीकात्मक स्वरूप जिलाधिकारी बनाया गया। साक्षी का सपना है कि वो बड़ी होकर आई0ए0एस0 बने जिसके चलते ही आज साक्षी जिलाधिकारी के साथ पूरा दिन बिताने के लिए आई थी, जैसे ही वो जिलाधिकारी के दफ्तर पहुंची जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने उन्हें 2 घंटे के लिए अपना प्रभार प्रतीकात्मक स्वरूप दे दिया। जिलाधिकारी बनने के बाद साक्षी ने लोगो की समस्याओं को गंभीरता  से  सुना। इसी कड़ी में आज मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय का कार्यभार सना ने संभाला जो 12वीं क्लास की छात्रा है। इनका सपना भी आई0ए0एस0 बनने का है, जिसके चलते वह बड़ी बारीकी से सी0डी0ओ0 के काम का परीक्षण एवं सीख रही हैं। इसके अलावा 2 छात्राये पहुंची एस0एस0पी0 दफ्तर में जहां एस0पी0 ग्रामीण नीरज कुमार जादौन उन्हें बता रहे हैं कि किस तरह पुलिस काम करती हैं। ये तमाम छात्राये भी अपने भविष्य को लेकर साथ ही गाजियाबाद प्रशाशन की इस पहल को लेकर खासी उत्साहित हैं। साक्षी 9वी कक्षा को जिलाधिकारी गाज़ियाबाद, सना कक्षा 12वी को मुख्य विकास अधिकारी, कशिश शर्मा कक्षा 11वी को उपाध्यक्ष गाजियाबाद विकास प्राधिकरण, खुशबू और मोहिनी  कक्षा 11वी  को  पुलिस अधीक्षक ग्रामीण, आकांक्षा कक्षा 11वी को सीएमएस डॉक्टर दीपा त्यागी, रश्मि गुप्ता कक्षा 11वी को सीएमएस नीरज विज, सिमरन कक्षा 11वी को एसीएमओ डॉक्टर संजय अग्रवाल एवं योगिता शर्मा को प्रिंसिपल भगीरथ पब्लिक स्कूल गाजियाबाद बनाया गया। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के इस अविरल प्रयास को लेकर सभी छात्राएं बहुत ही उत्साहित रही और उन्हें भविष्य में संबंधित पदों को प्राप्त करने के लिए एक नई प्रेरणा मिली है जिससे सभी छात्राएं बहुत ही उत्साहित पाई गई। जिलाधिकारी का यह अविरल प्रयास संबंधित छात्राओं को उड़ान भरने में उनके भविष्य को संवारने में मील का पत्थर साबित होगा।


Comments