सूत कताई करके होगी आजीविका में बढ़ोतरी महिलाओं को मिलेगा रोजगार

सूत कताई करके होगी आजीविका में बढ़ोतरी महिलाओं को मिलेगा रोजगार


दीन दयाल अन्त्योदय - राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत सुशीला ग्रामोद्योग संस्थान में विकास खण्ड - रजापुर के विभिन्न ग्राम पंचायतों की कुल 18 स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं का 10 दिवसीय सूत कताई पर प्रशिक्षण मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल एवं उपायुक्त, स्वतः रोजगार सुधा कुमारी के कुशल नेतृत्व में प्रारम्भ किया गया। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा सुशीला ग्रामोधोग संस्थान में जाकर सभी 18 प्रतिभागियों से मुलाकात की।



प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरान्त इन्ही महिलाओ द्वारा सूत - कताई अपने समूहो द्वारा किया जायेगा व खादी ग्रामोधोग विभाग, जिला उधोग केन्द्र, सहायक, श्रमायुक्त, गाजियाबाद से बात भी की गई है कि महिलाओं द्वारा सूत - कताई करने के उपरान्त घर से ही खरीद की जायेगी। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा महिलाओ को यह आश्वासन दिया गया कि आप यहां प्रशिक्षण लीजिए व प्रशिक्षण लेने के उपरान्त अपने स्तर पर घर पर सूत कताई की मशीन लगाकर इस कार्य को बड़े स्तर तक ले जाना है और इस कार्य में प्रशासन की ओर से आपको भरपूर सहयोग प्रदान किया जायेगा। साथ ही उपायुक्त, स्वतः रोजगार द्वारा इस मिशन से जुड़कर महिलायें अपने जीवन में आगे बढ़ रही है व आजीविका संवर्धन कर रही है। इस अवसर पर उपायुक्त, स्वतः रोजगार सुधा कुमारी, जिला मिशन प्रबन्धक, स्मिता शिवहरे, ब्लाक मिशन मैनेजर रूस्तम सिंह, सहायक विकास अधिकारी आई0एस0बी0, रजापुर अतुल एवं जिला खादी ग्रामोद्योग अधिकारी उपस्थित रहे।


Comments