स्वच्छ भारत अभियान को पलीता लगाता ग्राम भोजपुर

स्वच्छ भारत अभियान को पलीता लगाता ग्राम भोजपुर


 

मोदीनगर जहां मोदी सरकार स्वच्छ भारत मिशन पर लाखों करोड़ों रूपए खर्च कर रही है वहीं ग्राम भोजपुर स्वच्छ भारत मिशन को पलीता लगाता नज़र आ रहा है। मोदीनगर क्षेत्र के ग्राम भोजपुर में सफाई का कोई नामोनिशान नहीं है। हर जगह गंदगी का ढेर ही दिखाई पड़ता है। गांव के रास्तों पर कूड़े के ढेर दिखाई देते हैं तो वहीं नालियां भी कूड़े से भरी मिलेंगी।


हालांकि ग्राम प्रधान का यह दायित्व बनता है कि वह गांव की साफ सफाई को लेकर जागरूक रहे लेकिन ग्राम प्रधान ने भी जैसे स्वच्छ भारत मिशन को नज़र अंदाज़ किया हुआ है। जिस कारण प्रधान मंत्री का स्वच्छ भारत मिशन का सपना अधूरा ही दिखाई दे रहा है। गांव में कोई भी सफाई कर्मी सफाई करने नहीं आता और न ही गांव में एक भी नगरपालिका द्वारा रखा गया कोई कूड़ेदान नज़र आएगा। गांव का सारा कूड़ा कचरा गांव के ही बीचों बीच एक स्थान पर फेंक दिया जाता है। जिससे वहां पर कूड़े कचरा का अंबार लगा हुआ है। गांव की नालियों का भी ठीक ढंग से निर्माण नहीं हुआ है जिससे बारिश पड़ने पर नालियों का पानी रास्ते पर आ जाता है। ग्राम प्रधान से कई बार ग्रामवासियों ने सफाई को लेकर शिकायत भी की लेकिन ग्राम प्रधान ने इस सुनवाई पर कोई कार्यवाई नहीं की। जिससे ग्रामवासी भी परेशान हैं। ग्रामीणों का कहना है कि इस बारे में खंड विकास अधिकारी से भी कई बार शिकायत की जा चुकी है लेकिन उन्होंने भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया। गांव की गंदगी के कारण गांव में बीमारियां फैलने का अंदेशा बना हुआ है।

Comments