25 मार्च से 2 अप्रैल तक ऐतिहासिक मेला होगा आयोजित

मोदीनगर में सीकरी महामाया मेले के आयोजन को लेकर जिला प्रशासन के अधिकारी संवेदनशील


जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय के निर्देश पर उप जिलाधिकारी मोदीनगर सौम्या पांडेय के द्वारा महामाया मंदिर परिसर में विभागीय अधिकारियों के साथ की मैराथन बैठक


संबंधित अधिकारियों को समय रहते सभी तैयारियां पूर्ण करने के दिए कड़े निर्देश


आयोजित मेले में पच्चीस लाख से अधिक श्रद्धालुओं के भाग लेने की संभावना।


 


मोदीनगर तहसील के अंतर्गत ग्राम सिकरी खुर्द में प्रत्येक वर्ष आयोजित होने वाले महामाया मेले को लेकर जिला प्रशासन के अधिकारियों ने तैयारियां किया जाना प्रारंभ कर दिया गया है। इस श्रंखला में आज जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे के निर्देशों के अनुपालन में उपजिलाधिकारी मोदीनगर सौम्या पांडे के द्वारा महामाया मंदिर परिसर में संबंधित विभागीय अधिकारियों के साथ एक मैराथन बैठक करते हुए सभी विभागीय अधिकारियों को 1 सप्ताह के भीतर सभी प्रकार की तैयारियां करने के निर्देश दिए हैं।



उन्होंने नगरपालिका के अधिकारियों को इस अवसर पर निर्देशित करते हुए कहा कि निकलने वाले नाले की 1 सप्ताह के भीतर पर्याप्त सफाई व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए, इसी प्रकार मेला आयोजन के अवसर पर नगर पालिका एवं पंचायत राज विभाग के अधिकारीगण संयुक्त रूप से सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करने के उद्देश्य से कार्य योजना तैयार करते हुए मेले को स्वच्छता के साथ संपन्न कराने की कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे। उपजिलाधिकारी मोदीनगर सौम्या पांडे ने कहा कि यह बहुत ही ऐतिहासिक मेला है। यहां पर प्रत्येक वर्ष 25 लाख से अधिक श्रद्धालु जनपद एवं अन्य प्रदेश के भी भाग लेते है। सभी संबंधित अधिकारियों के द्वारा इस महत्वपूर्ण मेले को बहुत ही गंभीरता के साथ लेकर अपने-अपने विभाग की कार्रवाई की जाएगी ताकि आने वाले श्रद्धालुओं को सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध हो सकें। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से मेले के दौरान जो विद्युत कार्य संचालित किया जाएगा, उसका निरीक्षण करने के उद्देश्य से विभागीय टीम निर्धारित की जाए और पहले से ही अधिकारी कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।



मेले में आने वाले सभी प्रकार के मार्ग मेला प्रारंभ होने से पूर्व सभी की पर्याप्त मरम्मत व्यवस्था लोक निर्माण विभाग के अधिकारीगण, नगर पालिका के अधिकारीगण तथा अन्य संबंधित अधिकारीगणों के द्वारा की जाएगी। इसी प्रकार उन्होंने मेले में सुरक्षा की दृष्टि से एवं यातायात की दृष्टि से पुलिस विभाग के अधिकारियों को भी अपनी कार्य योजना तैयार करने के समय रहते निर्देश दिए हैं। उन्होंने स्पष्ट किया है कि यह बहुत ही ऐतिहासिक मेला है अतः सभी अधिकारीगण बहुत ही गंभीरता के साथ लेकर अपनी कार्य योजना तैयार करने की कार्रवाई करेंगे, ताकि सभी श्रद्धालुओं को मेले में सफाई व्यवस्था स्वच्छ पेयजल एवं अन्य सुविधाएं उपलब्ध हो सके।


उपजिलाधिकारी ने कहा कि इस वर्ष के मेले में प्रशासन की ओर से कुछ अच्छे प्रयास जिलाधिकारी के निर्देशन में किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस ऐतिहासिक मेले में प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी संचालित सभी योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के उद्देश्य से मेले के दौरान एलईडी वेन का संचालन होर्डिंग की स्थापना तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी श्रद्धालुओं के लिए प्रस्तुत किए जाएंगे, ताकि सरकार द्वारा संचालित की जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ जनता तक पहुंच सके।


इस अवसर पर बैठक के उपरांत उपजिलाधिकारी के द्वारा नहर के विभिन्न पुलिया, शौचालय एवं अन्य व्यवस्थाओं का स्थलीय निरीक्षण करते हुए संबंधित अधिकारियों को 1 सप्ताह के भीतर कार्रवाई सुनिश्चित करने के कड़े निर्देश दिए गए हैं। मंदिर परिसर में मैराथन बैठक 4 घंटे तक संचालित रही। इस अवसर पर खंड विकास अधिकारी भोजपुर, तहसीलदार मोदीनगर, नगर पालिका के अधिकारी, विद्युत विभाग के अधिकारी, लोक निर्माण विभाग तथा अन्य संबंधित विभागीय अधिकारियों के द्वारा भाग लिया गया।


Comments