प्रदेश के मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले से लाखों रोगी हो रहे हैं लाभान्वित 

प्रदेश के मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले से लाखों रोगी हो रहे हैं लाभान्वित 


गाज़ियाबाद। प्रदेश सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास की नीति पर चलते हुए मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने स्वच्छ प्रदेश-स्वस्थ प्रदेश का नारा देते हुए सबके स्वास्थ्य सेवाओं पर बल दिया है। प्रदेश में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजनान्तर्गत जटिल रोगों के इलाज हेतु 05 लाख रु0 तक का प्रति परिवार पात्र लाभार्थियों का इलाज किया जा रहा है, वहीं प्रदेश के पूर्वांचल में जेई/ए0ई0एस0 व अन्य वेक्टर जनित संचारी रोगों पर नियंत्रण किया गया है। मातृ सुरक्षा कार्यक्रम के अन्तर्गत जननी सुरक्षा योजना, जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम, प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान, प्रधानमंत्री वन्दना योजना के अन्तर्गत गर्भवती स्त्रियों को उपकेन्द्र स्तर से जिला चिकित्सालय स्तर पर निःशुल्क प्रसव जांच, दवाइयां, खाना एवं आने- जाने के लिए निःशुल्क 102, 108 एम्बुलेंस सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। प्रदेश सरकार 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों को जानलेवा 10 बीमारियों से एवं गर्भवती महिलाओं को टिटनेस से बचाव हेतु निःशुल्क नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के अन्तर्गत टीकाकरण किया जा रहा है। प्रदेश सरकार टी0बी0 रोग को नियंत्रण एवं जड़ से खत्म करने के लिए विशेष क्षय रोग नियंत्रण कार्यक्रम चला रही है। कुष्ठ रोग का उपचार मल्टी ड्रग थिरेपी रेजीमैन से प्रारम्भ किया गया है। राष्ट्रीय बधिरता बचाव एवं रोकथाम के लिए भी कार्यक्रम चलाते हुए मूकबधिरों का इलाज किया जा रहा है। प्रदेश में सरकार एनीमिया सहित हर रोग के इलाज के लिए आम जनता का निःशुल्क इलाज करा रही है।
प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग आम जनता को उनके घर के नजदीक ही समस्त प्रकार के इलाज एवं बचाव की जानकारी देने के उद्देश्य से प्रत्येक रविवार को पूर्वान्ह 10 से अपरान्ह् 02 बजे तक समस्त ग्रामीण एवं शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर ‘‘मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला’’ का आयोजन करा कर लोगों का उपचार करा रहे हैं। प्रत्येक जनपद के प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर डाॅक्टर, रोग विशेषज्ञ आदि उपस्थित होकर लाखों लोगों का इलाज कर रहे हैं। इस आरोग्य स्वास्थ्य मेले में मरीजों की जांच, चिकित्सा एवं दवा वितरण किया जाता है। टी0बी0, मलेरिया, डेंगू, दिगामी बुखार, कालाजार, फाइलेरिया, कुष्ठ से संबंधित जानकारी, आवश्यक जांच, उपचार, बचाव और दवाएं आदि दी जाती है। आरोग्य मेले में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान की जानकारी दी जाती है, साथ ही पात्र लाभार्थियों को ‘‘गोल्डन कार्ड’’ का वितरण भी किया जाता है। मेले में गर्भावस्था एवं प्रसव कालीन परामर्श एवं सेवाएं पूर्ण टीकाकरण परामर्श एवं सेवाएं भी प्रदान की जाती है।
मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले में बच्चों में डायरिया एवं निमोनिया के रोकथाम, बचाव एवं उपचार की जानकारी भी दी जाती है। इस मेले में कुपोषित बच्चों का चिन्हीकरण, उनके उपचार हेतु समुचित कार्यवाही भी की जाती है। प्रदेश के समस्त जिलों के समस्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर प्रत्येक रविवार को लगने वाला यह मेला आम जनता के लिए लाभप्रद साबित हो रहा है। अभी तक लगे इस मेले में प्रदेश के लाखों लोग अपना इलाज कराते हुए लाभान्वित हो रहे हैं।


Comments