शूटर शमशेर राणा को दी जान से मारने की धमकी

शूटर शमशेर राणा को दी जान से मारने की धमकी



गाज़ियाबाद। भारतीय किसान यूनियन टिकैत के राष्ट्रीय प्रेस प्रभारी तथा समाजसेवी शूटर शमशेर राणा ने पिछले दिनों एक नामी कालेज में कुछ दबंग छात्रों द्वारा पीड़ित छात्रा की मदद की थी तथा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सरकारी नारे के मद्देनजर अपना फोन नम्बर भी हेल्पलाइन हेतु जारी किया था। साथ ही वर्तमान मोबाईल ग्रुप बन्द करवाकर कालेज की देखरेख में नया मोबाईल ग्रुप शिक्षार्थ बनाने का आग्रह किया था। उक्त कालेज के प्रधानाचार्य और पुलिस प्रशासन को उक्त मोबाईल ग्रुप के छः सात एडमिन के नम्बर भी लिखे ताकि इनसे तुरन्त सम्पर्क हो सके।


इस पर प्रधानाचार्य ने इन छात्रों को समझने हेतु सम्पर्क किया तो इनमें से एक ने पुनः दादागिरी से ग्रुप में मेसेज भेज कर साथी विद्यार्थियों को धमकी भरी पोस्ट लिखी कि किसी ने प्रिंसिपल को मेरी शिकायत की है , जिसने भी की है चुपचाप वापिस ले लो या डायरेक्ट मुझ से बात कर ले वो बन्दा अगर मुझे किसी से पता चला या उसका नाम खुला तो भी परेशानी बन जायेगी। उस बन्दे के लिये फिर यही उपरोक्क्त शब्द शमशेर राणा को फोन करके बार बार शूटर कह कर धमकी भरी टोन के अन्दाज़ में सम्बोधित करते हुए अपना नाम बताते हुए कहा कि मुझे पता चल गया है कि आपने ही मेरी शिकायत प्रिंसिपल से की है। कोई और होता ना अब तक तो उस बन्दे के लिए परेशानी बन जाती। सही बोल रहा हूँ अब तक तो उड़ा देता। उस बन्दे को अब आप भी शिकायत वापस ले लो वर्ना आपके लिये भी परेशानी बन जायेगी और मेरे मामा और परिवार को पता चल गया तो बहुत बुरी बनेगी।


शूटर शमशेर राणा ने इस सम्बन्ध में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी तथा योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री उतर प्रदेश सरकार को समाज की इस परेशानी से मुक्ति हेतु अवगत कराया है। जो कि बार - बार लिख और बोल कर कहता है कि मैं किसी के लिये भी परेशानी हूँ। जिसके पीछे वह अपने परिवार और विशेष समाज की भी धमकी देता है। इस मौके पर शूटर शमशेर राणा के साथ जिलाध्यक्ष चौ० बिजेंद्र सिंह, चौ० ओमपाल सिंह, जयकुमार मलिक आदि थे।


Comments