कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी को लेकर गांव में सफाई व्यवस्था जरूरी - अनिल त्यागी

कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी को लेकर गांव में सफाई व्यवस्था जरूरी - अनिल त्यागी



 


मुरादनगर। कोरोना वायरस को लेकर सरकारी विभाग बड़े-बड़े दावे कर रहा है। लेकिन यहां ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसा कुछ नहीं दिखलाई दे रहा कि देश पर संकट गहरा रहा है। ऐसी हालातों में भी गांव में सफाई की व्यवस्था तक नहीं है।


गांव खिमावती के प्रधान अनिल त्यागी ने एक विशेष मुलाकात में बताया कि कुछ समय पहले तक गांव में ब्लॉक की तरफ से एक सफाई कर्मचारी आता था अब वह भी नहीं आ रहा है। जबकि इस बारे में अधिकारियों को भी अवगत कराया जा चुका है। अनिल ने बताया कि कोरोना जागरूकता बचाव के लिए वह अपने स्तर से गांव में कार्य कर रहे हैं। ग्राम प्रधान ने बताया कि उनके कार्यकाल में गांव में ताबड़तोड़ विकास कार्य हुए हैं। गांव में लगभग दो करोड़ रुपए की लागत के विभिन्न विकास कार्य कराए गए हैं।


ग्राम प्रधान के प्रयास से गांव के सरकारी स्कूल भी अब पब्लिक स्कूल की होड़ कर रहे हैं। अनिल त्यागी ने बताया कि उन्होंने यहां बच्चों को शिक्षा की हर व्यवस्था करने के उन्होंने प्रयास किए हैं और करते रहेंगे। गांव में नाली खरंजा रास्ते आदि जैसे कार्य बहुत कम हैं। अब हम अपने गांव को शहर की तर्ज पर विकसित कराने के लिए कार्य कर रहे हैं।


उन्होंने बताया कि स्वच्छता अभियान के तहत जिन मकानों में शौचालय नहीं थे। उन्हें वह गांव में पिंक शौचालयों का निर्माण कराया गया है। उन्होंने बताया कि गांव के किसानों को सरकार की योजनाओं का लाभ मिल सके। इसके बारे में भी समय-समय पर कार्य किया जाता है। एक प्रश्न के जवाब में अनिल त्यागी ने कहा कहा कि राजनीतिक विचारधारा कुछ भी हो सकती है। लेकिन हमारी पहली विचारधारा यह है कि हमारा गांव विकास के पायदान पर नंबर 1 स्थान पर खड़ा दिखाई देना चाहिए।


Comments