लोक डाउन में भी डॉक्टर अपने क्लीनिक खोल सकते हैं - संदीप मीणा

लोक डाउन में भी डॉक्टर अपने क्लीनिक खोल सकते हैं - संदीप मीणा


 

मुरादनगर। क्षेत्र में लोग सामान्य चिकित्सा से भी वंचित होते जा रहे हैं। लॉक डाउन के कारण डॉक्टरों की दुकानें भी बंद कराई गई थी तभी से डॉक्टर अपने क्लीनिक खोलने से डर रहे हैं। जबकि शासन के आदेश है कि डॉक्टर बीमारी से बचाव के प्रबंध कर मरीजों का इलाज कर सकते हैं। वह लॉक डाउन से बाहर रखे गए हैं लेकिन उनमें भय है।

इस बारे में सहायक पुलिस अधीक्षक संदीप मीणा ने बताया कि डॉक्टर अपनी क्लीनिक खोल सकते है। चिकित्सा सेवाएं लॉक डाउन से बाहर रखी गई हैं, जिससे कि जिन्हें दवा इलाज डॉक्टर की आवश्यकता है, वह लोग डॉक्टर को दिखा सकें। मीणा ने कहा कि डॉक्टर सरकारी दिशानिर्देशों को भलीभांति जानते, समझते हैं और इस आपदा के बारे में भी उन्हें पता है। इसलिए वह जनहित में सरकारी दिशानिर्देशों का पालन करते हुए अपने क्लीनिक खोल सकते हैं।

सावधानी के तौर पर क्लीनिक पर एक साथ एक स्थान पर ज्यादा रोगी एकत्र ने किए जाएं क्योंकि यह रोग लोगों के एक स्थान पर जमावड़े से ज्यादा भयंकर हो सकता है। शासन ने जनहित को देखते हुए चिकित्सकों पर कोई पाबंदी नहीं लगाई है। दवाओं के लिए भी कुछ मेडिकल स्टोर अधिकृत किए गए हैं। वहां से होम डिलीवरी की सुविधा भी उपलब्ध कराई जा रही है।


Comments