अगर एमएलसी आशु मलिक मदद को हाथ ना बढ़ाते तो ना जाने कितने परिवारों को भूख छीन लेती -  महताब पठान कांग्रेस नेता 

अगर एमएलसी आशु मलिक मदद को हाथ ना बढ़ाते तो ना जाने कितने परिवारों को भूख छीन लेती -  महताब पठान कांग्रेस नेता 



मुरादनगर। कोरोनावायरस के चलते जहां पूरा देश बंद है वहीं इस देश बंदी के कारण गरीब मजदूर लाचार लोगों को मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है। इन गरीबों की मदद करने के लिए कई संगठन सामने आ रहे हैं और उनको राशन सामग्री देकर सहयोग कर रहे हैं। इसी कड़ी में एमएलसी आशु मलिक भी मुरादनगर की गरीब जनता को राशन देकर उनकी दुआएं ले रहे हैं।


सरकार द्वारा कोरोना महामारी में अभी तक ईदगाह जैसी मलिन बस्ती में कोई मदद नहीं मिली है। बहुत से परिवारों के पास ना तो राशन कार्ड है और ना रहने को घर। अगर समाजसेवी सामने ना आते तो शायद ये भूख से तड़प तड़प कर मर जाते। मैं एक कांग्रेसी हूंं और मुझे सपा, बीजेपी नेताओं की अपनी काॅलोनी के लिए मदद लेनी पड़ रही है। क्योंकि हमारे जिला अध्यक्ष जो मुरादनगर कांग्रेस के राहत कार्य के लिए प्रभारी बनाए थे, वो कहीं नहीं दिखाई दे रहे हैं। मजबूरन दुसरे दलों के साथ मिलकर अपनी काॅलोनी के लिए कार्य करना पड़ रहा है। सच में आशू मलिक समय-समय पर राहत सामग्री भेज रहे हैं और दिखावा भी नहीं कर रहे हैं। आशु मलिक गरीबों के लिए मसीहा बन कर आए हैं।


Comments