बारात  बैंड  दावत  नहीं अग्नि के समक्ष सात फेरे ले  दूल्हा-दुल्हन हुए एक-दूजे के 
बारात  बैंड  दावत  नहीं अग्नि के समक्ष सात फेरे ले  दूल्हा-दुल्हन हुए एक-दूजे के 

 


 

मुरादनगर। लॉकडाउन के चलते एक युवक एवं युवती का विवाह लॉकडाउन के नियमों व  सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए संपन्न हुआ। कोरोना के कारण वाहनों कल कारखानों के पहिए बंद है जिसके कारण लोगों के बहुत से जरूरी कार्य विलंबित हुए हैं लेकिन यहां कोरोना एक दूजे के बंधन को नहीं रोक सका और तय समय पर ही अग्नि को साक्षी बनाकर सात फेरे लेकर कसमें खाई न किसी ने बारात आते हुए देखी और ना जाते हुए क्योंकि प्रशासन के दिशानिर्देशों के पालन हेतु विवाह में कुछ ही लोगों को शामिल होने की अनुमति ली थी। जिसके कारण पूरा वैवाहिक समारोह घर के अंदर कुछ नजदीकी रिश्तेदारों की मौजूदगी में डिफेंस कॉलोनी में दिनेश के आवास पर उनकी पुत्री रिचा एवं आशीष गर्ग का विवाह पूरी सादगी के साथ संपन्न हुआ।  इस विवाह में वर पक्ष की ओर से 6 तथा वधू पक्ष की ओर से केवल 4 लोग उपस्थित रहे। सभी का खाना भी घर में ही बना। वर पक्ष ने प्रशासन से दो गाड़ियों की परमिशन ली थी। वर वधु पक्ष के घर पर ही जयमाला व फेरे आदि की रस्म पूरी हुई। दहेज रहित यह शादी प्रशासन द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग तथा लॉक डाउन का पालन करते हुए संपन्न हुई। विवाह समारोह में वर एवं वधु पक्ष के सभी लोगो ने मास्क भी लगाए हुए थे।

 

Comments