मुरादनगर की कानून व्यवस्था को बनाए रखने में थाना अध्यक्ष ओपी सिंह का महत्वपूर्ण योगदान - ज्ञानेंद्र सिंघल

मुरादनगर की कानून व्यवस्था को बनाए रखने में थाना अध्यक्ष ओपी सिंह का महत्वपूर्ण योगदान - ज्ञानेंद्र सिंघल



मुरादनगर। दुरुस्त कानून व्यवस्था, लोक डाउन का पूर्ण रुप से पालन कराने के बावजूद भी शहर में कोई व्यक्ति भू खा न सो जाए, इस बात का ध्यान रखना अपने आप में एक चुनौती है। लेकिन इस चुनौती को स्वीकार करके उस पर विजय प्राप्त करना अगर किसी को सीखना है तो मुरादनगर थाना अध्यक्ष ओमप्रकाश सिंह से सीखे। यह कहना है पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल गाजियाबाद के जिलाध्यक्ष ज्ञानेंद्र सिंघल का।


सिंघल ने बताया जब से लॉक डाउन शुरू हुआ है तब से कोई ऐसा दिन नहीं गया होगा जिस दिन थानाध्यक्ष महोदय ने भूख से पीड़ित जरूरतमंद लोगों की गली गली मोहल्ले मोहल्ले जाकर उनकी मदद न की हो। वास्तव में मुरादनगर के गरीब असहाय लोगों के लिए देवदूत साबित हो रहे हैं मुरादनगर थाना अध्यक्ष। उन्हीं की प्रेरणा से प्रेरित होकर पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल भी जी जान से एक ही मिशन में लगा है। अपने क्षेत्र में कोई भी व्यक्ति या परिवार भूख से व्याकुल न रह जाए। कोरोना जैसी वैश्विक संक्रमण बीमारी का खतरा मोल लेते हुए पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल मुरादनगर के सभी कार्यकर्ता जी जान से गली गली मोहल्ले मोहल्ले जरूरतमंद असहाय, वृद्ध, विकलांग, विधवा परिवारों को खोज कर उनको राशन देकर जो सेवा कार्य कर रहे हैं वह वास्तव में अपने आप में एक मिसाल है।


ज्ञानेंद्र सिंघल ने कहा पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल द्वारा चलाए जा रहे सेवा कार्य में मुरादनगर थाना अध्यक्ष महोदय व्यापार मंडल के पदाधिकारियों को जरूरतमंद असहाय व्यक्तियों का के बारे में बता कर पूर्ण रूप से सहयोग करते हैं।  इसीलिए उन्होंने उनके लिए देवदूत शब्द का प्रयोग किया है। सिंघल ने बताया आज भी थानाध्यक्ष महोदय ने उन्हें फोन करके बताया कुटी रोड पर स्थित डागर विहार कॉलोनी में 25  मजदूरों के परिवार भूख से परेशान हैं। उनके पास राशन नहीं है। उनके लिए अपनी संस्था की ओर से राशन उपलब्ध करा दो। उक्त जानकारी मिलते ही थानाध्यक्ष महोदय के साथ अपनी संस्था के पदाधिकारियों को लेकर जब सिंघल कुटी रोड स्थित डागर विहार कॉलोनी पहुंचे तो देखा 20 25 मजदूरों के परिवार जो मुरादनगर में गैस पाइप लाइन डालने का कार्य करते हैं, भूख से परेशान हैं। उनका राशन समाप्त हो चुका है। जानकारी करने पर पता चला वह बिहार राज्य के तराशि क्षेत्र जिला औरेया के रहने वाले हैं। अचानक लॉक डाउन घोषित हो जाने के कारण वह लोग अपने घर नहीं पहुंच पाए। काम बंद हो जाने वह राशन समाप्त हो जाने के कारण भूखों मरने की नौबत आ गई। इन मजदूर परिवारों की समस्या को देखते हुए पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल ने पीड़ित परिवारों को तुरंत राशन, चावल, तेल, मिर्च मसाले आदि उपलब्ध कराया तथा भविष्य में भी पूर्ण सहयोग करने का वादा किया।


सिंघल ने बताया मुरादनगर में बहुत सारे मजदूर गरीब परिवार अन्य प्रदेशों से आ कर अपना गुजारा कर रहे हैं। उनके पास नए राशन कार्ड है नहीं अन्य कोई और डॉक्यूमेंट, जिस कारण उनके भूखे मरने की नौबत आ गई है। ऐसे परिवारों का जिनका कोई नहीं है उनका इस दुख का साथी अगर कोई है तो वह है पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल। भूख से पीड़ित परिवारों के बारे में लगातार संपर्क बनाए रखने के लिए ज्ञानेंद्र सिंगल ने थाना अध्यक्ष महोदय का आभार व्यक्त किया।


इस अवसर पर मुरादनगर व्यापार मंडल नगर अध्यक्ष मोहित गर्ग महामंत्री निखिल मित्तल, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अंकित गर्ग, नवीन सिंघल, प्रमुख समाज सेवी विनोद जिंदल भाजपा नगर अध्यक्ष नितिन गोयल, व्यापार मंडल के जिला महामंत्री संजय त्यागी, वरिष्ठ व्यापारी नेता संजीव त्यागी, सुनील त्यागी खेमावती, भाजपा महामंत्री सुशील गोस्वामी मधुर सिंगल आदि लोग उपस्थित रहे।


Comments