6 घंटे बाद मिला मासूम अपने माता-पिता से
6 घंटे बाद मिला मासूम अपने माता-पिता से फोटो अगर फोटो

 

मुरादनगर। 6 घंटे मासूम माता पिता के इंतजार में बिलखता रहा लेकिन लॉक डाउन के कारण आम लोगों का रोड पर न होने के कारण मासूम पर किसी का ध्यान नहीं गया। 6 घंटे बाद यहां पहुंचे उसके माता-पिता को वह एक मंदिर के पास बैठा मिला। यह देख कर मौजूद लोगों ने भी कहा कि ऊपरवाला सबकी सुनता है। हरिद्वार के ज्वालापुर में मजदूरी करने वाला अलीगढ़ के खैर जिले के राम भरोसे उसकी पत्नी बिंदु पैदल ही अपने गांव के लिए अपने बेटे टिंकू 10 वर्ष व बेटी मिनी 8 वर्ष को साथ लेकर चले थे। मेरठ बाईपास के निकट बच्चे को ज्यादा थकान परेशानी होने के कारण दंपत्ति ने एक बाइक सवार से थोड़ी दूर के लिए लिफ्ट मांगी। उसने सभी को साथ ले जाने से मना कर दिया। जिस पर उन्होंने अपने पुत्र को कुछ दूर तक बाइक पर बैठा कर छोड़ देने का अनुरोध बाइक सवार से किया।

बाइक सवार मुरादनगर गंग नहर के निकट बच्चे को बाइक से उतारकर चला गया व कुछ देर मासूम ने परिजनों का इंतजार किया। देर तक जब वह नहीं पहुंचे वह सड़क किनारे ही बैठकर रोने लगा। कुछ राहगीर वहां रुके लेकिन बच्चे के बारे में कुछ पता न होने के कारण वह भी आगे बढ़ गए। लगभग 6 घंटे बाद पैदल चलते हुए बच्चे के माता पिता उसकी तलाश करते हुए यहां आ पहुंचे, जहां बच्चा उन्हें मिला।

राम भरोसे ने बताया कि वह कुछ दूरी तक तो बच्चा मिलने को निश्चिंत होकर चल रहे थे लेकिन काफी दूरी तय करने के बाद भी जब उनका पुत्र नहीं मिला तो उन्हें चिंता हुई। वह उससे हाईवे किनारे आसपास तलाश कर यह सोचकर भी सिहर जाते थे कि शायद बच्चे को बाइक सवार अपने साथ ले गया हो। वहां मौजूद कुछ लोगों ने दंपत्ति को कुछ रूपए रास्ते खर्च के लिए देकर सावधानी की ताकीद करते हुए रवाना किया।

 

 

Comments