खुलेंगे न्यायालय स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइन का होगा पालन - विजय गौड़
खुलेंगे न्यायालय स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइन का होगा पालन - विजय गौड़

 


 

मुरादनगर। कोरोना के कारण न्यायालयों में चल रही बंदी 8 मई से कुछ शर्तों के साथ खोली जा रही है। इस बारे में बार एसोसिएशन गाजियाबाद के सचिव विजय गौड़ ने बताया कि 8 मई से कुछ शर्तों के साथ न्यायिक कार्य प्रारंभ किए जाएंगे।

गौड़ ने बताया कि न्यायालय परिसर में संपूर्ण सैनिटाइजेशन थर्मल स्कैनिंग केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा जारी गाइड लाइनों का कड़ाई से पालन मास्क सैनिटाइजेशन शारीरिक दूरी का पूरी तरह से पालन किया जाएगा। ऑरेंज जॉन में पड़ने वाले जिलों से आने वाला स्टाफ 10% ही आएगा। जनपद न्यायालय में केवल सत्र न्यायाधीश तथा स्पेशल क्षेत्राधिकार वाले न्यायाधीश मुख्य न्यायाधीश मजिस्ट्रेट कार्य करेंगे। जनपद न्यायाधीश वरिष्ठतम ए डी जे व मजिस्ट्रेट को कार्यभार देंगे तथा मुकदमों में कोई कार्यवाही नहीं होगी। उन्होंने बताया कि जनपद न्यायालय में न्यायिक अधिकारी पेंडिंग वेब फ्लैश जमानत प्रार्थना पत्र अग्रिम जमानत प्रार्थना पत्र न्यायिक अधिकारी रिमांड विचाराधीन कैदियों की सुनवाई करेंगे। लंबित आदेश्वर निर्णय यदि कोई हो तो उसे सुनवाई करके निर्णय पारित किए जाएंगे। जनपद न्यायालय में 65 वर्ष या उससे अधिक के व्यक्ति नहीं आएंगे इसके साथ ही न्यायालय परिसर में वादी प्रतिवादी विपक्षी या अन्य कोई पैरोकार नहीं आएगा। गोड ने बताया कि इस बारे में बार एसोसिएशन की ओर से सभी संबंधित को पत्र द्वारा सूचना भेज दी गई है।

Comments