लोग रहे परेशान, प्रशासनिक अधिकारी बेसुद्ध
लोग रहे परेशान, प्रशासनिक अधिकारी बेसुद्ध

 

मुरादनगर। महामारी के फंसे लोग अपने घर जाने के लिए उतावले हैं और लोगों के कहे पर भी विश्वास कर रहे हैं वह सही है या झूठ इस बारे में इस समय शायद किसी के पास सोचने का समय नहीं है। इसीलिए लोग आपाधापी में हैं। राधा स्वामी सत्संग ब्यास मोरटा के निकट स्थित हजारों की संख्या में अपने घर जाने की इच्छा लिए मजदूर जमा हो गए। उन्हें बताया गया था कि गंतव्य तक पहुंचाने के लिए उनके गुरु जी ने बसों का इंतजाम किया है। यह सुनकर बड़ी संख्या में लोग अपने परिवारों के सहित यहां एकत्र हो गये। जिलाधिकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विधायक सुनील शर्मा सहित अन्य बड़ी संख्या में लोग आश्रम पर पहुंचे और वहां मौजूद लोगों का हालचाल लिया। जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने आश्रम के अंदर प्रवेश करते ही तमाम गेट बंद करा दिए। उसके बाद उन्होंने वहां मौजूद लोगों का हालचाल लिया। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग उनके बाहर निकलने व अपने वाहनों के इंतजार में खड़े दिखलाई दिए जिनके साथ छोटे बच्चे सामान थे। यही नहीं अन्य भी कई  स्थानों पर प्रवासी रुके या चल रहे हैं लेकिन उनके बारे में कोई सुध बुध किसी ने नहीं ली। इस बारे में विधायक सुनील शर्मा ने फोन पर वार्ता में बताया कि उन्हें यहां लोगों के फंसे होने की सूचना पर वह पहुंचे थे और जितना संभव हो सकता है उतना प्रवासियों को उनके मूल निवास स्थानों तक पहुंचाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

इस बारे में सैकड़ों किस संख्या में मौजूद परिवारों ने बताया कि उन्हें राधा स्वामी सत्संग व्यास की ओर से घर जाने की व्यवस्था का आश्वासन दिया गया था और उनके कुछ साथियों को भेजा भी जा चुका है। यही सुनकर मजदूरों का रेला मोरटा की ओर बढ़ रहा है। आश्रम के आसपास कड़ी सुरक्षा के प्रबंध बताए गए थे लेकिन वह प्रबंध आश्रम के अंदर ही होंगे क्योंकि प्रशासन ने वहां जाने की अनुमति किसी को प्रदान नहीं की। बसों की इंतजार में खड़े सैकड़ों लोगों का कहना था कि उन्हें पहले यहां भेजा गया और अब कोई खैर खबर लेने वाला नहीं है। जिलाधिकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक व अन्य अधिकारी वहां पहुंचे लेकिन उनकी किसी ने सुध नहीं ली और वह ऐसे ही हालत में राहत मिलने का इंतजार कर रहे हैं।

 

 

Comments