मेहनत से कमाते खाते अपने घर वापसी कर रहे हैं मजदूर
मेहनत से कमाते खाते अपने घर वापसी कर रहे हैं मजदूर

 


 

मुरादनगर। उत्तराखंड हरिद्वार में मजदूरी करने वाले करीब एक दर्जन मजदूर अपने गांव पहुंचने के लिए पैदल ही हरिद्वार से  मध्यप्रदेश के लिए चल दिए। जहां लॉक डाउन के कारण लोग सरकारी सहायता या सामाजिक सहायता के सहारे अपने घर  पहुंचने का प्रयत्न कर रहे हैं। मध्य प्रदेश गांव मेहशाह पोस्ट बिजाह थाना जयसिंह नगर  जिला सहडोल मध्य प्रदेश निवासी मजदूर  हरिद्वार में मजदूरी कर अपने परिवार का लालन पालन कर रहे थे लेकिन उत्तराखंड में हुए लॉक डाउन के कारण उनका काम जाता रहा और वहां खाने को रोटी तक नहीं थी। पैदल चले भूखे प्यासे मजदूर मेरठ जिले के  दबथुवा पहुंचे। उन्होंने खेतों में फसल की कटाई करते हुए किसानों से काम मांगा और वहां के किसानों ने सभी को 1 हफ्ते तक अपने यहां रोककर खेत की फसल की कटाई कराई। उसके बाद उन्हें आगे के लिए खाद्यान्न के साथ कुछ नगद रुपए भी उनकी मेहनत के मिल गए। मजदूरों का कहना था कि वह घर से मेहनत मजदूरी कर कमाने के लिए निकले थे,  भीख मांगने के लिए नहीं। जहां काम कर रहे थे वहां काम बंद हो जाने के कारण इन लोगों को रास्ते में जो भी काम मिल रहा है।

खेत की कटाई सड़क की बनाई खुदाई जैसे मजदूरी के काम खुशी खुशी कर अपनी मंजिल की ओर बढ़ रहे हैं। जगत यादव, राजकरण यादव, विकास यादव, गजाधर यादव, रामा यादव, भूपेंद्र यादव, नन्द लाल यादव, मुलसजीवन यादव आदि ने बताया कि वह लॉक डाउन के बाद हरिद्वार से मध्यप्रदेश के लिए पैदल ही चले थे। शुरू में कुछ कठिनाई हुई लेकिन उसके बाद चलते चलते ही उन लोगों ने काम कर कमा खा अपने-अपने घर पहुंचने का निर्णय लिया।

Comments