युवा जल संरक्षण समिति के पहले स्थापना दिवस पर राष्ट्रीय सचिव ने सभी का किया आभार व्यक्त
युवा जल संरक्षण समिति के पहले स्थापना दिवस पर राष्ट्रीय सचिव ने सभी का किया आभार व्यक्त

 


 

निशांत भारद्वाज, राष्ट्रीय सचिव, युवा जल संरक्षण समिति

 

मुरादनगर। युवा जल संरक्षण समिति ने आज अपने पहले स्थापना दिवस पर समिति के उन सभी 200 प्लस से मेंबरों का आभार व्यक्त किया जो इस समिति के अभियान को शहर और गांव में निरंतर गति प्रदान कर रहे हैं। भविष्य में जल की कमी की समस्या को सुलझाने के लिये जल संरक्षण ही एक उपाय बचा है। भारत और दुनिया के दूसरे देशों में जल की भारी कमी है जिसकी वजह से आम लोगों को पीने और खाना बनाने के साथ ही रोजमर्रा के कार्यों को पूरा करने के लिये जरूरी पानी के लिये लंबी दूरी तय करनी पड़ती है। जबकि दूसरी ओर, पर्याप्त जल के क्षेत्रों में अपने दैनिक जरुरतों से ज्यादा पानी लोग बर्बाद कर रहें हैं। हम सभी को जल के महत्व और भविष्य में जल की कमी से संबंधित समस्याओं को समझना चाहिये। हमें अपने जीवन में उपयोगी जल को बर्बाद और प्रदूषित नहीं करना चाहिये तथा लोगों के बीच जल संरक्षण और बचाने को बढ़ावा देना चाहिये।

भारत के जिम्मेदार नागरिक होने के नाते, पानी की कमी के सभी समस्याओं के बारे में हमें अपने आपको जागरुक रखना चाहिये जिससे हम सभी प्रतिज्ञा लें और जल संरक्षण के लिये एक-साथ आगे आये। ये सही कहा गया है कि सभी लोगों का छोटा प्रयास एक बड़ा परिणाम दे सकता है जैसे कि बूंद-बूंद करके तालाब, नदी और सागर बन सकता है। 

जल संरक्षण के लिये हमें अतिरिक्त प्रयास करने की जरुरत नहीं है, हमें केवल अपने प्रतिदिन की गतिविधियों में कुछ सकारात्मक बदलाव करने की जरुरत है जैसे हर इस्तेमाल के बाद नल को ठीक से बंद करें, फव्वारे या पाईप के बजाय धोने या नहाने के लिये बाल्टी और मग का इस्तेमाल करें। लाखों लोगों का एक छोटा सा प्रयास जल संरक्षण अभियान की ओर एक बड़ा सकारात्मक परिणाम दे सकता है।

Comments