आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की, की गई थी हत्या - डॉ अनिला सिंह सिंह आर्य

आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की, की गई थी हत्या - डॉ अनिला सिंह सिंह आर्य



मुरादनगर। सरकार का विपक्षियों के लिए घोषित काला दिवस है। जब तत्कालीन प्रधानमंत्री दिवंगत इंदिरा गांधी के द्वारा आपातकाल की घोषणा हुई थी लोकतंत्र की हत्या की गई। 25-6-1975 की अर्धरात्रि को आपातकाल की घोषणा होना शीर्ष नेताओं की गिरफ्तारी होना, धीरे-धीरे अन्य कार्यकर्ता गिरफ्तार करना लोकतंत्र की हत्या की ओर बढ़ते कदम थे। यह बातें वरिष्ठ भाजपा नेत्री डॉ अनिला सिंह ने कहते हुए बताया कि जब जनता जागरूक होती है तब दूध का दूध और पानी का पानी हो जाता है। अनेक दलों के एकीकरण से कांग्रेस पराजित हुई ओर एकीकृत दल जीते और जनता पार्टी की सरकार बनी।


ऐसे समय में जेल की यातना सहने वालों में अधिवक्ता जयप्रकाश बंसल जिनकी गिरफ्तारी खैर कस्बे से हुई थी और वर्तमान में गाजियाबाद जिले के मोदीनगर में रहते हैं। भाजपा के अनेक दायित्वों का निर्वहन करते हैं। आज प्रातः जाकर उनका व उनकी पत्नी सरोज बंसल का पटका पहनाकर, फूलों की वर्षा करके अभिनंदन किया तथा कुछ अनुभव साझा किए। 


डाक्टर उपेन्द्र कुमार आर्य पूर्व चिकित्सा प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष, सरकार द्वारा नामित सभासद राजकुमार तंवर, पूर्व नगर मंत्री डाक्टर ब्रम्हपाल सिंह, डाक्टर सुरेन्द्र कुमार वर्मा, सरोज और डाक्टर आदि की उपस्थिति रही।


Comments

Popular posts from this blog

अमेज़ॉन में हुआ काइट के 13 छात्रों का प्लेसमेंट, प्रत्येक छात्र को मिला 44.14 लाख का पैकेज

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी