पहले पति को पुलिस के हवाले किया, बाद में छुड़ाने के लिए लगाती रही पुलिस से गुहार

पहले पति को पुलिस के हवाले किया, बाद में छुड़ाने के लिए लगाती रही पुलिस से गुहार


 


मुरादनगर। कहते हैं कि औरत के रूप अनेक होते हैं। ऐसा ही मामला थाने पहुंचा जिसमें महिला ने पति से विवाद होने पर पुलिस सहायता 112 पर कॉल कर दी। मौके पर पहुंची पुलिस उसके पति को हिरासत में लेकर थाने आ गई। कुछ देर बाद महिला का क्रोध जब शांत हुआ तब उसमें एक पत्नी जाग उठी। 6 माह के मासूम बच्चे को लेकर वह थाने पहुंच गई। थाने में घुसते ही पुलिसकर्मियों ने पूछा यहां क्यों आई है। उसने बताया कि रात हम दोनों में झगड़ा हो गया था और मैंने रात को पुलिस बुला ली थी लेकिन मुझे यह पता नहीं था कि पुलिस उसको जेल भेज देगी। वह पुलिसकर्मियों से मिन्नत करती रही कि मेरे पति को इस बार छुड़वा दो दोबारा कभी शिकायत नहीं करूंगी। 


उसका कहना था कि अपने छोटे से बच्चे के बाप को जेल नहीं भेजना चाहती। पुलिसकर्मी भी शायद उसके मन की बात को समझ रहे थे। उच्चाधिकारियों के एक अन्य मामले में लगे होने के कारण पुलिसकर्मियों ने भी महिला को यही आश्वासन दिया कि तेरा पति जेल नहीं जाएगा। महिला देर तक अधिकारियों का इंतजार करती रही लेकिन समाचार लिखे जाने तक उसका पति हवालात में ही बंद था। 


 


Comments