भट्टा मालिक ने मजदूरों के नहीं दिए पैसे सामान छीन कर भगाया

भट्टा मालिक ने मजदूरों के नहीं दिए पैसे सामान छीन कर भगाया


 


मुरादनगर। भट्टा मालिक ने मजदूरों से काम कराने के बाद भी उनकी मजदूरी का पैसा नहीं दिया और उनका सामान छीन कर रख लिया। ऐसी स्थिति में उनके सामने भूखों मरने की हालत आ चुकी है। इस बारे में आधा दर्जन मजदूरों ने थाने में भट्टा मालिक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। भट्टा सर्च एम बी एफ 1 मालिक वेदपाल सतीश देवेंद्र स्थित ग्राम चैनपुर थाना मुरादनगर जिला गाजियाबाद के द्वारा पिछले 5 माह से वेतन न देने तथा पैसों की मांग करने पर उनके साथियों के साथ मारपीट कर भट्टे से भगा दिए। इस बारे लालाजी पुत्र विश्राम निवासी मूल प्रतापगढ़ प्रार्थी फरवरी 2020 में भट्टा स्थित ग्राम हुसैनपुर थाना मुरादनगर जिला गाजियाबाद जिसके भट्टा मालिक वेदपाल सतीश देवेंद्र है के द्वारा प्रार्थी को अपने उपरोक्त भट्टे पर ₹15000 महावीर पकाई के लिए लेकर आए थे व 6 साथी भैया राम, अरविंद, श्रीचंद, बाबूराम, ओमप्रकाश भट्टे पर ₹15000 के हिसाब से लेकर आए थे वह और उसके साथी उसी दिन से बड़ी लगन मेहनत से अपना कार्य करते चले आ रहे हैं। 


भट्टा मालिकों के द्वारा उसका उसके साथी को मात्र खाने पीने के लिए ही पैसा दिया गया तथा पूरा वेतन कभी नहीं दिया गया था। उसके साथियों का वेतन के रूप में ₹197000 हुआ। जिसमें से ₹49000 वेतन किया व साथियों का अंकन ₹148000 व 12 दिन का वेतन अलग यानी ₹36000 कुल अंकन एक लाख 86 हजार रुपया होता है। भट्टा मालिक द्वारा उनका रूपया नहीं दिया जा रहा है। ₹186000 न देने की नियत से तथा हड़पने की नीयत से उससे और उसके साथियों को तंग व परेशान करना शुरू कर दिया तथा खाने पीने के लिए भी खर्चा देना बंद कर दिया तथा धमकी दी जाने लगी कि पहले भी ईंट पकाई वाले व्यक्तियों को हमने कोई वेतन नहीं दिया। जिसने पैसों की मांग की उसको और तक बच्चे से नीचे नहीं उतरने दिया है ना ही उसका आज तक कोई अता पता ही चलने दिया है। उक्त लेबर को भट्टे में ही उतार दिया है। उसकी लाश का भी पता नहीं चलने दिया है। प्रार्थी व्यवस्था के साथियों को संतराम ठेकेदार लेकर आया था। उससे भी पैसों की बात की तो उसके द्वारा भी धमकी दी कि आज तक मैंने किसी को पैसा नहीं दिया है। 


प्रार्थी व उसके साथियों के द्वारा भट्टा मालिक व ठेकेदार संतराम से अपने पैसों का हिसाब करने की बात कहा तो सभी ने एक राय देकर उसके और साथियों को भट्टे के ऑफिस में बंद करके बुरी तरीके से मारपीट की और कहा कि चलो तुम्हें एक रुपया भी नहीं देंगे और जान से मारने की की धमकी दी। प्रार्थी व उसके साथियों का समस्त सामान कपड़ा खाने-पीने का व अन्य सामान भी अपने कब्जे में कर के उपरोक्त भट्टा मालिक व ठेकेदार के द्वारा भट्टे से भगा दिया गया। अब वह भूखे प्यासे दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं और जंगल में पड़े हुए हैं। प्रार्थी व उसके साथियों के पास ₹1 भी अपने खाने पीने के लिए नहीं है तथा उपरोक्त भट्टा मालिकों व ठेकेदार के द्वारा ₹186000 जबरन प्रार्थी के साथियों का अपने पास रखे हुए हैं।


प्रार्थी व उसके साथी उपरोक्त संबंध में थाना मुरादनगर में रिपोर्ट लिखाने गए परंतु पुलिस के द्वारा भट्टा मालिक व ठेकेदार संतराम दबंग होने के होने के कारण किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं की। 


प्रार्थना पत्र में मांग की गई है कि भट्टा मालिक एम बी एफ 1 भट्टा स्थित ग्राम हुसैनपुर मुरादनगर जिला गाजियाबाद के मालिकों व ठेकेदार संतराम के विरूद्ध रिपोर्ट थाना में दर्ज कराई जा कर उनके विरुद्ध उचित कार्यवाही करते हुए प्रार्थी व उसके साथियों का ₹186000 दिलाया जाए तथा प्रार्थी और उसके साथियों की जान माल की रक्षा की जाए।


Comments

Popular posts from this blog

अमेज़ॉन में हुआ काइट के 13 छात्रों का प्लेसमेंट, प्रत्येक छात्र को मिला 44.14 लाख का पैकेज

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी