नारकीय जीवन जी रहे हैं न्यू डिफेंस कॉलोनी के लोग 

नारकीय जीवन जी रहे हैं न्यू डिफेंस कॉलोनी के लोग 



मुरादनगर। नगर पालिका परिषद अपने आप को नंबर वन बता रही है लेकिन धरातल पर स्थिति यह है कि नगर पालिका परिषद शायद नाली खड़ंजा तक के कार्य को ही अपना कर्तव्य समझ बैठी है। शहरी क्षेत्र में नगर पालिका को जनहित के और भी कार्य करने होते हैं लेकिन शायद झाड़ू लगवाना ही सफाई की सोच बड़े क्षेत्र के निवासियों के लिए जी का जंजाल दिन का चैन और रात की नींद खराब है। ऊपर से संक्रामक रोगों का खतरा लोगों को चिंतित कर रहा है। 


नगर की पूर्ण विकसित कही जाने वाली न्यू डिफेंस कॉलोनी निवासियों के लिए कभी तालाब तो कभी जीडीए की मार्केट उसके बाद वाटर पार्क में नौकायन उक्त कार्य नहीं हुए। नगर पालिका ने उसे पार्क घोषित कर दिया। पगडंडी नुमा रास्ता बना कुछ ईंट भी बिछाई लेकिन उससे भी शहर के लिए एक बदनुमा धब्बा और न्यू डिफेंस कॉलोनी के लिए अभिशाप बनकर रह गया है। मेरठ दिल्ली हाईवे पर गंदगी के ढेर से गंदे पानी के जमाव से चौधरी चरण सिंह तालाब की हालत देखकर यह लगता है कि कचरे से भरा कोई डंपिंग ग्राउंड हो बरसात के पानी ने उसमें कोढ़ में खाज वाली स्थिति बना दी है। 


कभी उखलारसी गांव का तालाब नगर पालिका सीमा विस्तार के बाद नगर पालिका क्षेत्र में आ गया। इस तालाब को लेकर न्यायालय में मुकदमे बाजी तक हुई। इस तालाब पर जीडीए द्वारा व्यवसायिक स्थल बनाए जाने की घोषणा की। दुकानें देने के लिए फार्म पैसा जमा हुए लेकिन उस योजना को रद्द करते हुए जीडीए ने सभी का पैसा वापस लौटा दिया था। नौका विहार का तालाब बनाने की योजना बनाई थी जिसका शिलान्यास तत्कालीन प्रदेश के कैबिनेट मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक राजपाल त्यागी ने किया था लेकिन वह योजना भी शायद कहीं कागजों में खो गई। लोगों की सुबह शाम घूमने की समस्या को यहां पार्क निर्माण की घोषणा भी हुई लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला। आज भी वह स्थान गंदी कीचड़ भरा कॉलोनी के लिए नासूर बन चुका है। इस मामले में नगर के कॉलोनी वासियों का कहना है कि तालाब में कूड़े गंदे पानी में भर गया है जिससे जलभराव के कारण कभी भी कोई भी अप्रिय घटना घटित हो सकती है। आसपास के मकान मालिकों को आशंका है कि गंदा पानी घर जाने के कारण सीलन उनके मकानों तक जा पहुंची है। किसके कारण कारण उनके मकान भी गिर सकते हैं। कालोनी के लोगों ने नगर पालिका परिषद पर इसकी सुध ने लिए जाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि इस स्थान के कारण उनका जीवन नारकीय हो गया है। 


लोगों ने मांग की है कि इस समस्या का जल्द से जल्द समाधान कराया जाए क्योंकि कोरोना काल में साफ सफाई का विशेष महत्व है लेकिन यहां उन्हें गंदगी के बीच रहना पड़ रहा है। मुख्य हाईवे पर होने के कारण नगर की नरकीय स्थिति की तस्वीर दूर-दूर तक पहुंच रही हैं जो कि हमारे लिए शर्मनाक है। 


Comments