स्कूल कालेज खुलने से पहले अभिभावकों को फीस को लेकर लग रहा है डर - महताब पठान 

स्कूल कालेज खुलने से पहले अभिभावकों को फीस को लेकर लग रहा है डर - महताब पठान 


 



मुरादनगर। कोरोना महामारी में लाॅकडाउन के बाद ज्यादातर लोग रोजगार से परेशान है। ऐसे में इकठ्ठा फीस जमा करने के डर से मजबूरन अपने बच्चों को स्कूल कालेज में  नहीं भेजना चाहते हैं। अभिभावक स्कूल कालेज खुलने से पहले अभिभावकों की पीड़ा समझते हुए फीस माफ करने की मेहरबानी करें। यूपी सरकार क्योंकि बढ़ती महंगाई के कारण आज गरीब मजदूर किसान सभी के सामने परिवार को पालने में जो दिक्कत आ रही है ऐसे मे स्कूल कालेजों का फीस को लेकर दबाव बनाने से अधिकतर अभिभावकों के सामने अपने बच्चों को स्कूल कालेज ना भेजकर अपने घरों में रोकने को मजबूर हैं। 


Comments