कहां रुक गए डस्टबिन

कहां रुक गए डस्टबिन


 


मुरादनगर। नगर वासियों को कूड़ा पात्र डस्टबिन पहुंचाया जाना था लेकिन लोग समझ ही नहीं पा रहे हैं कि डस्टबिन की गाड़ी लॉकडाउन में कहीं उलझ गई है या डस्टबिन बांटो अभियान का श्री गणेश नगर पालिका ने घोषणा से ही पूरा कर दिया। स्वच्छता मिशन के अंतर्गत नगर पालिकाओं द्वारा हर परिवार तक डस्टबिन निशुल्क उपलब्ध कराने थे। नगर में भी पालिका ने डस्टबिन उपलब्ध कराए जाने का कार्यक्रम प्रारंभ किया था। शुभारंभ के फोटो भी अखबारों में छपे थे। कुछ लोगों को कूड़ा पात्र मिले भी लेकिन बड़ा हिस्सा अभी तक नगरपालिका के कूड़ेदानों से वंचित है। 


इस बारे में सभासद दिनेश कुमार ने बताया कि उन्हें वार्ड में उपलब्ध कराने के लिए कुछ डस्टबिन उपलब्ध कराए गए थे। वह लोगों को दे दिए गए हैं। इसके बाद यदि नगर पालिका और परिवारों तक पहुंचाने के लिए मिलेंगे तो पहुंचाए जाएंगे। नगर पालिका परिषद अध्यक्ष चौधरी विकास तेवतिया भाजपा जैसी अंतरराष्ट्रीय ( क्योंकि पहले अमेरिका सहित कई देशों में भाजपा समर्थकों के समर्थक थे लेकिन अब पाकिस्तान के मंत्री तक भाजपा का प्रभाव होना सभी के सामने आ चुका है) के बड़े वाले नेता है। उनके पास हो सकता है कि पार्टी के अन्य कार्यक्रमों के कारण छोटे-मोटे कामों पर ध्यान न रहता हो लेकिन सभासद तक शायद अपने वार्डों के निवासियों को यह जवाब दें कि पता नहीं कब मिलेंगे। ऐसे जवाब जनता को देकर वह भी अपनी जिम्मेदारी से नहीं बच सकते क्योंकि जनता के वोट लेकर ही वह सभासद बने थे। उनकी भी जिम्मेदारी है कि अपने क्षेत्र की आवश्यकता को पूरी करें और यदि सभासद अपने मतदाताओं को वह सुविधाएं भी उपलब्ध नहीं करा सकते जिनके लिए वह चुनकर गए थे। उन्हें भी आने वाले चुनावों में जाने से पहले अपने पदों से इस्तीफा दे देना चाहिए जिससे यह कह सकें कि हमारी पालिका अध्यक्ष या अधिकारी नहीं सुन रहे। इस बारे में कई वार्ड के लोगों से जानकारी की जिसमें पता चला कि अभी बदरिया नहीं बरसी छींटे पड़े हैं। 


Comments

Popular posts from this blog

अमेज़ॉन में हुआ काइट के 13 छात्रों का प्लेसमेंट, प्रत्येक छात्र को मिला 44.14 लाख का पैकेज

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी