जलालपुर रोड डबल करने की मांग

जलालपुर रोड डबल करने की मांग




मुरादनगर। पाइपलाइन मार्ग के चौड़ीकरण का कार्य प्रस्तावित है। इसके साथ ही जलालपुर रोड को भी डबल लाइन किए जाने की आवश्यकता महसूस होने लगी है। दिल्ली हाईवे से जलालपुर होते हुए पाइपलाइन मार्ग बादशाही रोड तक जलालपुर रोड पर भविष्य में वाहनों की अधिकता हो जाएगी। अभी भी कभी-कभी इस रोड पर जाम के हालात बन जाते हैं। कारण है सड़क की कम चौड़ाई दो वाहन आसानी से पास नहीं हो पाते और बड़े वाहन ट्रक आदि आ जाने के कारण लंबे जाम की स्थिति बन जाती है। इस रोड पर कई दर्जन कालोनियां बसी हुई हैं जिनमें बड़ी संख्या में लोग रहते हैं। कॉलोनी वासियों के पास भी अपने वाहन हैं। वही इस रास्ते से गाजियाबाद की ओर से आने वाले लोग पाइपलाइन रोड होते हुए रावली, सुराना होते हुए बागपत की ओर जाते हैं। रावली सुराना मार्ग पर कई दर्जन गांव है। वहां के लोग भी इस मार्ग का प्रयोग करते हैं। इस मार्ग को गंग नहर रेगुलेटर के लिए भी शॉर्टकट माना जाता है। सरकार मुरादनगर से हरिद्वार की ओर गंग नहर किनारे हाईवे बनाने की प्रक्रिया प्रारंभ कर चुकी है। पाइपलाइन रोड के चौड़ीकरण का कार्य भी  शीघ्र ही हो जाएगा। उस स्थिति में इस मार्ग की महत्वपूर्ण भूमिका हो जाएगी। गंग नहर हाईवे से गाजियाबाद दिल्ली की ओर जाने वाले पाइपलाइन मार्ग का इस्तेमाल करेंगे। मेरठ दिल्ली हाईवे तक पहुंचने के लिए यह मार्ग सबसे उपयुक्त रहता है क्योंकि यह वाहनों को शहर की भीड़भाड़ से बचाकर आउटर रिंग रोड का काम करता है। 
हरिद्वार हाईवे पाइपलाइन चौड़ीकरण के बाद इस मार्ग पर वाहनों की संख्या बढ़ना तय है। इस समय मार्ग दयनीय हालत में है। सड़क पर जगह-जगह गड्ढे हो गए हैं जिसके कारण आने जाने वाले दो पहिया वाहन चालक चोटिल हो जाते हैं। चार पहिया वाहनों को भी चालकों को संभाल कर निकालना पड़ता है जिसके कारण दुर्घटनाओं का भी अंदेशा बना रहता है। इस बारे में बार एसोसिएशन गाजियाबाद के पूर्व सचिव एडवोकेट विजय गौड़ ने बताया कि मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर इस मार्ग के दोहरीकरण का आग्रह किया गया है और यह आवश्यक भी है।
इस बारे में विकास संघर्ष समिति के सचिव सलेक भैया ने बताया कि पाइपलाइन चौड़ीकरण का कार्य शीघ्र ही प्रारंभ हो जाएगा। जिससे क्षेत्र को बड़ा लाभ मिलेगा।
Comments