वीर हकीकत राय ने धर्म के लिए दिया बलिदान - विनोद जिंदल

वीर हकीकत राय ने धर्म के लिए दिया बलिदान - विनोद जिंदल




मुरादनगर। गंग नहर स्थित लीलावती रामगोपाल सरस्वती विद्या मन्दिर सीनियर सैकण्डरी स्कूल में बसन्त पंचमी पर्व व वीर हकीकतराय बलिदान दिवस पर यज्ञ व सरस्वती पूजन का आयोजन किया गया। इसमें मुख्य यजमान के रूप में में स्कूल के अध्यक्ष सुमित कुमार गुप्ता, रूचि गुप्ता के द्वारा यज्ञ में पूर्ण आहुति दी गय। इस अवसर पर माँ सरस्वती की वंदना व पूजा अर्चना की गयी तथा समस्त जगत के कल्याण हेतु सद्बुद्धि प्रदान करने की प्रार्थना की गयी। 
इस अवसर पर स्कूल के अध्यक्ष सुमित कुमार गुप्ता,  वरिष्ठ सदस्य अशोक कुमार अग्रवाल, रजनीश वर्मा प्रधानाचार्य सोम गिरि सहित सभी अध्यापक व अध्यापिका उपस्थित रहे। प्रबंधक विनोद जिंदल ने कहा कि वीर हकीकत राय ने मात्र 14 वर्ष की आयु में अपने आप का धर्म पर बलिदान कर दिया था। उन्होंने बताया कि एक बार दूसरे समुदाय के छात्रों ने वीर हकीकत राय पर उनके धर्म का अपमान करने का आरोप लगाया। उस समय उन्हें सजा सुनाई गई कि वह अपना धर्म छोड़कर दूसरे धर्म को स्वीकार कर लें लेकिन उन्होंने ऐसा करने से स्पष्ट इंकार कर दिया। उसी के कारण उनका बलिदान हुआ जिसके लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा। बसंत पंचमी से नवसृजन प्रारंभ होता है। जहां तापमान में परिवर्तन होता है वही प्रकृति भी एक चक्र प्रारंभ कर जीवन में नव भावनाएं जागृत करती है।
Comments