मंदिर के निकट से शराब के ठेके हटे, हिंदू संगठनों ने प्रसन्नता व्यक्त की

मंदिर के निकट से शराब के ठेके हटे, हिंदू संगठनों ने प्रसन्नता व्यक्त की





मुरादनगर। मंदिर के निकट चल रहे शराब के ठेके कराए गए बंद  शराब की दुकानें स्थानांतरित की गई हिंदू युवा वाहिनी व अन्य हिंदू  संगठनों ने बस स्टैंड पर मंदिर के निकट चल रहे। मांसाहारी  होटल तथा शराब की दुकानें यहां से हटाने की मांग यह कहते हुए की थी। कि मांसाहारी होटलों के कारण मंदिर में पूजा करने जाने वाले लोगों को ठेस पहुंचती है। वहीं शराब के ठेके हटाने के लिए कारण बताया गया था। कि वहां लोग शराब पीकर मंदिर आने जाने वाली महिलाओं श्रद्धालुओं से छेड़छाड़ अभद्रता करते हैं। हिंदू संगठनों की मांग पर प्रशासन ने बस स्टैंड के निकट चलने वाले मांसाहारी होटल बंद करा दिए थे। और अब शराब के ठेके भी वहां से हटा दिए गए हैं। यहां लगभग 50 से 60 वर्ष से शराब की दुकानें चल रही थी।
मांसाहारी होटल व शराब के ठेके हटाने की मांग को लेकर हुए हंगामे में हिंदू युवा वाहिनी नेता देवेंद्र पायल के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा भी दर्ज किया था। देवेंद्र  पायल ने बताया कि यहां हनुमान जी व शिव मंदिर है। जहां पर भारी संख्या में भक्त सुबह शाम पूजा अर्चना करने आते है। मंदिर के नजदीक ही तीन शराब के ठेके व सात मासहारी चिकन की दुकानें थी। जिसके कारण श्रद्धालुओं को काफी परेशानीयो का सामना करना पड़ता था। कई बार लोगों ने थाने में और जनप्रतिनिधियों से इस की शिकायत की मगर सरकार के ढुलमुल रवैया व वोटों की राजनीति के कारण सुनवाई नहीं हुई। लंबे संघर्ष के बाद उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार में योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बन गए। हिन्दू युवा वाहिनी गाजियाबाद से जिला अध्यक्ष  आयुष त्यागी  के पदभार संभालने के बाद कार्यकर्ताओं को आशा हुई कि ठेके मांसाहारी दुकान अब हट सकती हैं।  यह मुद्दा प्रदेश के मुख्यमंत्री तक पहुंचाया गया। जिस पर अब ठेके भी मंदिर से दूरी पर चले गए हैं। उन्होंने कहा कि सभी कार्यकर्ता अपनी मांग पूरी होने पर प्रसन्न है। और प्रदेश के मुख्यमंत्री को धन्यवाद ज्ञापन भेजा गया है। इस अवसर पर हिंदू युवा वाहिनी कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर बधाई दी।
Comments