युवक की सरेआम पीट पीट कर की हत्या, आरोपी गिरफ्तार, हत्या का कारण स्पष्ट नहीं

युवक की सरेआम पीट पीट कर की हत्या, आरोपी गिरफ्तार, हत्या का कारण स्पष्ट नहीं




मुरादनगर। हत्यारों ने युवक की हत्या कर दी और लोग मानवता के हत्यारे बन गए। पुलिस यदि समय रहते कार्यवाही करती तो शायद न युवक की हत्या होती और न मानवता मरती। पुलिस ने हत्या करने के आरोप में दो भाइयों व उनकी मां को गिरफ्तार करने का दावा कर अपनी पीठ खुद थपथपाई है लेकिन हत्या का कारण स्पष्ट नहीं कर सकी है। हत्या का जो कारण शराब पीकर विवाद बताया जा रहा है वह लोगों के गले नहीं उतर रहा। पुलिस जांच के नाम पर लीपापोती करने में लगी है। हत्या का कारण वर्चस्व की लड़ाई भी हो सकता है। नृशंस दिल दहलाने वाले तरीके से हुई हत्या के पीछे की कहानी की सच्चाई हर कोई जानना चाहता है। रावली रोड स्थित गुड मंडी में तैराक सोनू पुत्र कैलाश 22 वर्ष की लाठी-डंडों व ईट से पिटाई कर बेरहमी से हत्या कर दी गई। हमलावर जब उस पर ताबड़तोड़ प्रहार कर रहे थे आसपास बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। युवक मदद के लिए चिल्लाया लेकिन कोई उसकी मदद के लिए आगे नहीं बढ़ा। कुछ दिलेर उसकी पिटाई तड़पने की वीडियो जरूर बनाते रहे। सोशल मीडिया पर चली उसी वीडियो के कारण पुलिस हरकत में आई और आरोपियों की आनन-फानन में गिरफ्तारी की। 
इस बारे मेें मृतक की मां कौशल पत्नी स्वर्गीय पप्पू उर्फ कैलाश निवासी सीकरी कला मोदीनगर ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। थाना प्रभारी अमित कुमार ने बताया कि सोनु उर्फ डायलूटर पुत्र कैलाश निवासी सीकरी कला मुरादनगर गंगनहर में गोताखोर का काम करता था। वह अपने दोस्त विकास पुत्र प्रकाश के साथ बैठकर शराब पी रहा था। उसी दौरान उनमें किसी बात को लेकर विवाद हो गया। सोनू ने विकास की पिटाई कर दी तभी विकास ने अपने घर जाकर यह बात अपने भाई कमल पुत्र प्रकाश माता सुमन पत्नी प्रकाश को बताया तो कमल ने व विकास ने डंडे लेकर गुड मंडी पहुंचे और सोनु पर ताबड़तोड़ हमले कर दिए। सोनू गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस को इस बारे में किसी ने फोन पर सूचना दी। अभी पुलिस बताए घटनास्थल की ओर चली भी नहीं थी कि सोशल मीडिया पर पिटाई मौत की वीडियो वायरल हो गई। जिससे पुलिस में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंची हमलावर वहां से फरार हो गए। पुलिस सोनू को अस्पताल ले गई जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया पुलिस ने सोनु की मां की तहरीर पर कमल पुत्र प्रकाश विकास पुत्र प्रकाश सुमन पत्नी प्रकाश को कत्ल में प्रयुक्त हुए डंडे व ईंट के साथ गिरफ्तार किया है। मृतक आरोपी दोनों ही गंग नहर पर गोताखोर के रूप में रहते थेे। जो गंग नहर में डूबने वालों को निकालते थे। मृतक को गंग नहर मंदिर के महंत ने रखा हुआ था। आरोपी स्थानीय निवासी हैं। दोनों ही एक दूसरे को गंग नहर से हटाना चाहते थे। पहले उनमें विवाद हुआ था जिसकी शिकायत सोनू ने थाने में की थी। लेकिन पुलिस ने उस समय कोई कार्यवाही नहीं की गंग नहर पर पहले भी कुछ स्थानीय गोताखोर रहते थे लेकिन उन्हें वहां से भगा दिया गया था। सूत्रों का कहना है कि हत्या उसी कारण से भी सकती है। फिलहाल पुलिस क्या कहानी बनाती है उसका इंतजार हैै।



Comments