घरेलू गैस सब्सिडी बंद करना गरीबों से छल - निजाम चौधरी

घरेलू गैस सब्सिडी बंद करना गरीबों से छल - निजाम चौधरी





मुरादनगर। सरकार देश की जनता के साथ छल कर रही है। गरीबों को निशुल्क गैस कनेक्शन के नाम पर बेहूदा मजाक किया जा रहा है। सरकार ने अप्रैल 2020 से गैस सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी बंद की हुई है। यह बातें आजाद समाज पार्टी के सहारनपुर वाराणसी संभाग प्रभारी तथा मुरादनगर विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष मजदूर नेता निजाम चौधरी ने कहते हुए बताया कि सरकार प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के अंतर्गत गरीबों को निशुल्क गैस कनेक्शन उपलब्ध कराने के नाम पर उन्हें धोखा दे रही है। इस योजना के अंतर्गत खूब कनेक्शन बांटकर सरकार ने वाहवाही बटोरी। वहीं आम उपभोक्ताओं को भी महंगाई से राहत देने के लिए सिलेंडर की रिफलिंग पर सब्सिडी देने का प्रावधान भी किया गया लेकिन सरकार ने सभी उपभोक्ताओं की सब्सिडी बंद कर दी। जिसके कारण गरीबों के गैस सिलेंडर खाली हैं और महिलाओं विशेषकर ग्रामीण क्षेत्र में धुआं रहित रसोई फिर धुएं से भर गई है। 
भारतीय जनता पार्टी की सरकार गरीब उत्थान के नाम पर उनको भ्रमित कर अमीरों को और अमीर बनाने में लगी है। उन्होंने कहा कि उज्जवला योजना के गैस कनेक्शन देखने के लिए ही रह गए हैं। कनेक्शन के साथ मिलने वाले कुछ सामानों का पैसा सब्सिडी से कटना था लेकिन सब्सिडी बंद कर दी गई। ऐसे में ऐसे कनेक्शन धारकों का क्या समायोजन होगा। पेट्रोल डीजल के दाम दिन प्रतिदिन बढ़ाए जा रहे हैं जिसके कारण प्रत्येक वस्तु की महंगाई बढ़ जनता की कमर तोड़ रही है। सरकार कोरोना काल में लोगों को हर संभव मदद के दावे कर रही है लेकिन स्थिति इससे बिल्कुल उल्टी है। कोरोना के समय में भी गैस की सब्सिडी बंद करना इसका प्रत्यक्ष प्रमाण है। उन्होंने भेंट वार्ता के दौरान कहा कि सरकार उद्योगों में इस्तेमाल होने वाले एलपीजी सिलेंडरों पर कोई छूट नहीं देती। आम जनता को मिलने वाली सब्सिडी देनी प्रारंभ करनी चाहिए और वर्ष 2020 से जिन उपभोक्ताओं की सब्सिडी रोकी गई है वह भी उन्हें दी जाए।

Comments