दांतो के कारण हो सकते हैं गंभीर रोग - डा. सुनैना

दांतो के कारण हो सकते हैं गंभीर रोग - डा. सुनैना




मुरादनगर। दांतो को खराब होने से पहले ही ऐसी सावधानियां रखनी शुरू कर देनी चाहिए जिससे असमय ही दांत कमजोर न हो जाएं। नियमित स्वास्थ परीक्षण के साथ ही समय-समय पर दांतो की भी डॉक्टर से जांच करानी चाहिए। यह कहना है दंत रोग विशेषज्ञ डॉक्टर सुनैना सिंह का। उन्होंने कहा कि दांतों से संबंधित कोई भी समस्या होने पर घरेलू उपचार के स्थान पर योग्य प्रशिक्षित कुशल दंत रोग विशेषज्ञ से सलाह लेकर उपचार कराना चाहिए। यदि आपको दांतों में दर्द मसूड़ों में सूजन या खून आना, खाने के दौरान असुविधा या तकलीफ का एहसास, मुंह से बदबू आना. के लक्षण दिखलाई दें तो समझें कि आपको दांतो के डॉक्टर की आवश्यकता है।
दांत कमजोर होने पर यह समस्याएं पैदा होती हैं। रोजाना सुबह उठकर ब्रश करने से ही दांतों को स्वस्थ नहीं रखा जा सकता। उसके लिए अन्य सावधानियां भी रखनी चाहिए जिससे कैविटी न हो। मुंह को स्वच्छ रखने से कैविटी से बचाव होता है और दांत पीले भी नहीं होते और मुंह से बदबू भी नहीं आती। कई शोध से पता चला है कि मुंह से संबंधित समस्याओं के कारण कई अन्य स्वास्थ्य समस्याएं भी होती हैं। जैसे हृदय रोग, स्ट्रोक, किडनी रोग, शुगर और मुंह का कैंसर. दांत को स्वस्थ रखने और इनकी मजबूती के लिए भी ऐसे ही सावधानी बरतें जैसे शरीर के अन्य भागों के पोषण स्वच्छता के लिए करते हैं। दंत चिकित्सक सुनैना बीडीएस की डिग्री मिलने के बाद 2 वर्ष से अधिक समय से यहां दंत चिकित्सा सफलतापूर्वक कर रही हैं। उन्होंने बताया कि छोटे बच्चों में भी दांतो की समस्याएं हो रही है। उसके लिए अभिभावकों को उनके खाने-पीने पर विशेष ध्यान रखना चाहिए।
Comments