पुष्टाहार वितरण में धांधली मुख्यमंत्री से शिकायत

 पुष्टाहार वितरण में धांधली मुख्यमंत्री से शिकायत


 मुरादनगर। नौनिहालों को कुपोषण से बचाने के लिए सरकार द्वारा पुष्टाहार निशुल्क दिए जाने की व्यवस्था है लेकिन संबंधित विभाग बच्चों के हक को डकार सरकार की बदनामी करा रहे हैं। कोरोना काल में भी बच्चे पुष्टाहार से वंचित हैं जून महीना आ गया लेकिन अभी तक नवंबर 2020 के नाम पर मात्र दाल के कुछ पैकेट ही लाभार्थियों को मिल सके हैं। वह भी चौथाई पात्रों को पुष्टाहार योजना के अंतर्गत तेल दलिया गेहूं सूखा दूध पाउडर दाल आदि उपलब्ध कराए जाते हैं। लेकिन यहां उसके वितरण में भारी धांधली हो रही है इस बारे में अखिल भारतीय मानवाधिकार निगरानी समिति के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष लाला गंगा शरण ने बताया कि इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से की गई थी। शिकायत पर लखनऊ से भी फीडबैक लिया गया था उसके बावजूद स्थानीय कर्मचारी अधिकारी पात्र सभी बच्चों का पुष्टाहार उपलब्ध नहीं करा रहे उन्होंने बताया कि सरकार की ओर से प्रत्येक महीने बच्चों को दिए जाने वाला सामान भेजा जा रहा है लेकिन स्थानीय अधिकारी उसमें धांधली करा रहे हैं।


Comments

Popular posts from this blog

अमेज़ॉन में हुआ काइट के 13 छात्रों का प्लेसमेंट, प्रत्येक छात्र को मिला 44.14 लाख का पैकेज

चेयरमैन सईउल्लाह खान ने कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा

कानूनी जागरूकता शिविर में छात्र छात्राओं ने दी कानून की जानकारी ग्रामीणों को जानकारी