ब्लाक प्रमुख चुनाव वोट की कीमत अट्ठारह लाख तक पहुंची, क्षेत्र पंचायत सदस्य हिल स्टेशनों की सैर पर

ब्लाक प्रमुख चुनाव वोट की कीमत अट्ठारह लाख तक पहुंची, क्षेत्र पंचायत सदस्य हिल स्टेशनों की सैर पर


मुरादनगर। ब्लॉक प्रमुखों के वोटर क्षेत्र पंचायत सदस्यों को टूर पर हिल स्टेशनों की वादियों में भेज कर भीषण गर्मी में भी ठंडक का अहसास कराया जा रहा है। वोट की कीमत इस बार सबसे महंगी बोली 13 से अट्ठारह लाख तक पहुंची जनता जनार्दन के जनादेश की कीमत क्षेत्र पंचायत सदस्य ब्लॉक प्रमुख पद के दावेदार और भी बढ़ा सकते हैं। सदस्य प्रमुख पद के दावेदारों से मुंह भर कर रुपया मांग रहे हैं प्रमुख बनने वाला उस रुपए की भरपाई कहां से करेगा यह सभी समझ रहे हैं। लेकिन जनता का वोट लेकर क्षेत्र पंचायत सदस्य बनने वाले जनता का नहीं अपना स्वार्थ सिद्ध कर रहे हैं। ब्लाक प्रमुख चुनावों की आधिकारिक अधिसूचना जारी नहीं हुई है लेकिन ब्लाक प्रमुख का चुनाव लड़ने वाले संभावित प्रत्याशियों ने अपने वोटों को अपने कब्जे में लेना शुरू कर दिया है। सूत्रों का कहना है कि एक प्रत्याशी ने क्षेत्र पंचायत सदस्यों को कुल्लू मनाली शिमला आदि के टूर पर भेजना शुरू कर दिया है। अभी तक एक प्रत्याशी ने 13 लाख रुपए में वोट खरीदी है। दूसरे प्रत्याशी की ओर से अट्ठारह लाख रुपए की बोली लगा दी है। ऐसे में पहले 13 लाखों रुपए लेकर वोट का सौदा करने वाले सदस्यों ने अपनी वोट के रुपए बढ़ाने की मांग संभावित अध्यक्षों से शुरू कर दी है। जिला पंचायत अध्यक्ष पद के नतीजे घोषित होने के बाद ब्लॉक प्रमुख चुनाव का कार्यक्रम घोषित होगा। लेकिन ब्लाक प्रमुख का चुनाव लड़ने वाले अभी से हर तरह से अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए रुपया भी बांट रहे हैं। वोटरों को सुरक्षित रखने के लिए सैर के लिए दूरस्थ स्थानों पर भेज रहे हैं जिससे दूसरे प्रत्याशी उन तक न पहुंच सके जो माहौल चल रहा है। उसे देखकर लगता है कि इस बार ब्लॉक प्रमुख पद का चुनाव सबसे महंगा होगा। चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी सत्ता के संपर्क में भी हैं। अब किसे सत्ता समर्थन करेगी और किसे विपक्ष यह आने वाले कुछ ही दिनों में स्पष्ट हो जाएगा। मुख्य रूप से भाजपा नेता राजीव त्यागी तथा बसपा नेता कृष्ण दत्त त्यागी की पत्नी साधना त्यागी चुनाव मैदान में हैं। कहने वाले कह रहे हैं कि साधना त्यागी को भाजपा के समर्थन की घोषणा भी हो सकती है। ऐसे में चुनाव रोचक हो जाएगा, विश्वस्त सूत्रों से जानकारी मिली है कि चुनाव होने तक क्षेत्र पंचायत सदस्यों को क्षेत्र से दूर टूर पर भेजा जा चुका है और कुछ को भेजने की तैयारी चल रही है।

Comments