सावधानी आवश्यक - डॉ राधेश्याम दहिया

 सावधानी आवश्यक - डॉ राधेश्याम दहिया


 मुरादनगर। पुलिस देखते ही लोगों को मास्क सामाजिक दूरी के नियमों की याद आ जाती है और पुलिस के ओझल होते ही सभी दिशानिर्देशों को ताक पर रख दिया जाता है। लॉकडाउन अनलॉक होने के बाद लोग भारी लापरवाही कर रहे हैं। यदि हालात ऐसे ही रहे संक्रमण दोबारा बढ़ सकता है और एक बार फिर से लॉकडाउन का सामना करने की स्थिति आ सकती है। बाजार खुलने पर ग्राहकों की संख्या दुकानों पर बढी है वहीं दुकानदारों खरीददारों ने मास्क दूरी के निर्देशों को एक और कर दिया है। कुछ बाजारों में धक्का-मुक्की की स्थिति बनने लगी है। कहीं पुलिसकर्मी दिखलाई पड़ जाते हैं तब लोग मास्क संभालते हैं। अनलॉक होने के बाद पुलिस भी लापरवाह हो गई है कोराना कर्फ्यू के दौरान कई स्थानों पर पुलिसकर्मी तैनात रहते थे जो नियमों का पालन न करने वालों के खिलाफ कार्यवाही करते रहते थे। अब वह भी उन स्थानों पर नहीं दिखलाई दे रहे जिसके कारण लोगों को पुलिस का डर भी नहीं रहा। इस बारे में डॉ राधेश्याम दहिया ने कहा कि अभी खतरा है सावधानी से ही बचाव संभव है।

Comments