कई कर्मचारियों की मौत के बाद भी विद्युत विभाग नहीं चेत रहा

कई कर्मचारियों की मौत के बाद भी विद्युत विभाग नहीं चेत रहा


मुरादनगर। विद्युत विभाग की लापरवाही के कारण उसके ही कर्मचारियों के साथ दुर्घटनाएं हो रही हैं। तब भी विभागीय अधिकारी खामियों की ओर ध्यान नहीं दे रहे लाइनों के तार जर्जर होकर नीचे झूल रहे हैं। कहीं-कहीं तो तारों को इस तरह से लपेटा गया है कि उन्हें पता ही नहीं चल पाता की बिजली के तार कौन से हैं और बाकी तार किस लिए लटके हुए हैं। कालोनियों के बीच आबादी में ऐसी स्थिति में लाइनों में आग जैसी दुर्घटना हो जाए तो लोगों को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। बिजली विभाग के कई कर्मचारियों की जान कार्य करते समय लाइनों के कारण चली गई

 लेकिन लोगों द्वारा अनेकों बार इस बारे में उच्चाधिकारियों को पत्र लिखकर अपनी चिंता जताते हुए लाइनों के तार बदलने की मांग कर चुके हैं। लेकिन अधिकारियों ने और ध्यान नहीं दिया। जिसके कारण हर समय दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। इस बारे में सर्राफा व्यापार मंडल के अध्यक्ष लोकेश सोनी ने बताया कि विभाग के अधिकारियों को कई बार इस समस्या से अवगत कराया जा चुका है। लेकिन सुधार का कोई कार्य अभी तक नहीं हुआ यह स्थिति तब है कि कई कर्मचारी अपनी जान तक गंवा बैठे हैं।

Comments