बिजली विभाग की लापरवाही के कारण हुई मौत, जान की कीमत लगाई 5 लाख
बिजली विभाग की लापरवाही के कारण हुई मौत, जान की कीमत लगाई 5 लाख


मुरादनगर। विद्युत विभाग प्रशासन ने अपनी लापरवाही से जाने वाली जान की कीमत ₹500000 लगाई है। बृहस्पतिवार को बसंतपुर सैंतली निवासी दंपत्ति पर बिजली की हाईटेंशन 11100 की लाइनों के तार टूट कर गिर गए थे। जिसमें पति की मौत हो गई थी पत्नी को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही के कारण उसकी मौत हुई सामाजिक राजनीतिक संगठन कई बार इस बारे में उच्चाधिकारियों से शिकायत कर चुके हैं लेकिन स्थिति वही ढाक के तीन पात वाली है। गलती सरकारी विभागों की खामियाजा जनता को भुगतना पड़ता है। प्रतिवर्ष बिजली विभाग की कुव्यवस्था के कारण सैकड़ों लोग शिकार होते हैं। किसी की जान जाती है कोई हाथ पैरों से बेकार हो जाता है। दुर्घटना के बाद मृतक के परिजनों तथा ग्रामीणों ने थाने पर हंगामा कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग तथा परिवार के लिए आर्थिक सहायता की मांग रखी थी। लोगों के उग्र तेवर देखते हुए 5 लाख रुपए का चेक पीड़ित परिवार को देने के बाद अन्य सहायता दिलाने का भी अधिकारियों ने आश्वासन दिया है। अधिकारियों कर्मचारियों के विरुद्ध कार्यवाही करने के स्थान पर उच्चाधिकारी भी ले देकर घटनाओं पर पर्दा डालने का प्रयास करते हैं ताकि उनके भ्रष्टाचार लापरवाही की आवाज लंबी दूरी तक न जाए। इस बारे में पीड़ित पक्ष ने बताया कि चेक दे दिया गया है तथा परिवार को हर संभव सहायता का आश्वासन दिया है। सरकारी अधिकारियों के आश्वासन पूरे कराने के लिए उखलारसी श्मशान घाट नरसंहार जो कि नगरपालिका के के भ्रष्टाचार के कारण हुआ था उसी से पीड़ित लोगों को अभी तक घोषित राहत उपलब्ध नहीं हुई है।
Comments