बंद रहा सराफा बाजार - लोकेश वर्मा

बंद रहा सराफा बाजार - लोकेश वर्मा


मुरादनगर। सरकार द्वारा सर्राफा कारोबारियों पर लगाए गए नए नियमों में सुधार की मांग करते हुए 23 अगस्त को सर्राफा व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान बंद रख अपना विरोध प्रदर्शन किया। ज्वेलर्स की दुकानें नगर में पूरी तरह से बंद रही सर्राफा व्यापार एसोसिएशन के अध्यक्ष लोकेश वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि एच. यू.आई.डी स्टॉक डिक्लेरेशन व हाल मार्क की विसंगतियों के विरोध में 23 अगस्त को पूरे भारत के सभी ज्वैलर्स एक दिन की सांकेतिक हड़ताल पर रहे। हड़ताल सरकार को यह बताने के लिए रखी गई है कि 5000 वर्ष पुरानी ज्वैलरी इंडस्ट्रीज को वह किसी भी कीमत पर खत्म नहीं कर सकते। सभी ज्वैलर्स हर उस काले कानून का विरोध करेंगे जो ज्वेलरी ट्रेड के विरोध में होगा यह बहुत बड़ी साज़िश व षड्यन्त्र के तहत पुश्तेनी -परंपरागत आभूषण निर्माताओं व कारीगरों को समाप्त करने तथा ब्रांडेड व बहुराष्ट्रीय कम्पनियों और बड़े व्यावसायिक घरानों को मोटा लाभ पहुँचाने के लिए काला क़ानून बनाया गया है। जो किसी भी सूरत में मान्य नही होगा। उन्होंने कहा कि हालमार्क हमें स्वीकार है, एच यू आई डी हमें स्वीकार नहीं है। इस अवसर पर पंकज वर्मा, अजय वर्मा, पंकज गर्ग, अध्यक्ष उद्योग व्यापार मंडल बलराम वर्मा, राजपाल वर्मा, बृजमोहन वर्मा, आस मोहम्मद, संदीप वर्मा, राजवीर वर्मा मुख्य रूप से उपस्थित रहे।


Comments