गुमशुदगी को लेकर पुलिस नहीं होती गंभीर हत्या का खुलासा पुलिस के लिए भी एक सबक

गुमशुदगी को लेकर पुलिस नहीं होती गंभीर हत्या का खुलासा पुलिस के लिए भी एक सबक


मुरादनगर। गांव खैराजपुर में युवक की हत्या का खुलासा कर पुलिस ने अन्य पुलिसकर्मियों के लिए भी एक बड़ा सबक सिखाया है कि यदि पुलिस पूरी ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का पालन करें तो कुछ भी असंभव नहीं है। लेकिन अधिकांश थानों में गुमशुदा के के बारे में पुलिस कागजी खानापूर्ति करती है। जिसके कारण अनेकों लापता का कभी पता ही नहीं चलता लेकिन मुरादनगर पुलिस ने जो भी इस खुलासे में शामिल अधिकारी कर्मचारी रहे वह प्रशंसा के पात्र हैं। लेकिन इसका दूसरा पहलू यह भी है कि अभी तक थाने में सैकड़ों लोगों की गुम होने की शिकायतें लंबित हैं। मुरसलीम पुत्र यामीन निवासी खौराजपुर उम्र लगभग 18 वर्ष दिनांक 10.08.2021 को दोपहर संदिग्ध परिस्थितियों में घर से लापता हो गया था। जिसकी लिखित शिकायत उसके भाई वाजिद पुत्र यामीन ने दिनांक 15.08.2021 थाने में दर्ज कराई थी। पुलिस ने शिकायत दर्ज कर युवक की तलाश शुरू कर दी थी, पुलिस लेकिन उसका पता नहीं चल रहा था। संबंधित चौकी क्षेत्र के प्रभारी लापता का पता लगाने का प्रयास कर रहे थे उसी दौरान एक फोन ने पूरा खुलासा ऐसा किया कि सुनने वालों को भी विश्वास नहीं हुआ।

कि इस तरह हत्या कर युवक का शव दबा उसके ऊपर ही सोफा डालकर हत्यारे आराम से बैठे रहे। लेकिन पुलिस की मुस्तैदी तथा मोबाइल सिम की जानकारी के आधार पर पुलिस ने शव बरामद करते हुए हत्याकांड का खुलासा कर लोगों को चौंका दिया। क्योंकि हत्या में एक युवती भी महत्वपूर्ण भूमिका बताई जा रही है इस मामले को लेकर लोगों में कई तरह की चर्चाएं हैं। इस बारे में पुलिस के अधिकारियों से जानकारी लेने का प्रयास किया लेकिन अधिकारिक अधिकारी से संपर्क नहीं हो सका। लेकिन बताया जा रहा है कि इस मामले में पुलिस ने युवती समेत कई लोगों को हिरासत में लिया हुआ है।

Comments