ज्ञापन देने के बाद भी उखलारसी स्थित श्मशान घाट से प्रभावित परिवारों का धरना जारी, शासन ने नहीं ली सुध

ज्ञापन देने के बाद भी उखलारसी स्थित श्मशान घाट से प्रभावित परिवारों का धरना जारी, शासन ने नहीं ली सुध



मुरादनगर। उप मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने के बाद भी उखलारसी स्थित श्मशान घाट से प्रभावित परिवारों का धरना, भूख हड़ताल नगर पालिका परिषद कार्यालय पर 25 वें दिन भी जारी है। क्योंकि अभी तक उनकी मांगों को लेकर कोई सकारात्मक प्रतिक्रिया प्रशासन की ओर से नहीं हुई है। आंदोलनकारी महिलाओं का कहना है कि वह  29 नवंबर से धरना भूख हड़ताल पर बैठी हैं। उन्हें आशा थी कि प्रदेश के उपमुख्यमंत्री उनके दर्द को समझ उनकी मांगों को पूरा कराने का प्रयास करेंगे लेकिन अभी तक उन्हें आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला है। इसको लेकर महिलाओं में आक्रोश है। उन्होंने कहा है कि प्रशासन उनकी समस्याओं का समाधान कराने के स्थान पर उन्हें डरा धमका कर उनका आंदोलन खत्म कराना चाहता है। लेकिन हम न्याय मिलने तक अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। गौरतलब हो कि 3 जनवरी 2021 को नगर पालिका द्वारा बनाई गई श्मशान घाट की छत वहां एक व्यक्ति का अंतिम संस्कार करने गए लोगों के ऊपर गिर गई थी जिसमें 25 लोगों की जानें गई थी, इतने ही लोग घायल हुए थे। प्रशासन ने लोगों के गुस्से को देखते हुए दोषियों को सजा, मृतकों के परिवार से एक नौकरी आर्थिक सहायता बच्चों की उच्च शिक्षा आवास घायलों के इलाज का आश्वासन दिया था। लेकिन 11 माह बीत जाने के बाद भी पीड़ितों से किए गए वादे पूरे नहीं हुए। इसी को लेकर महिलाएं 29 नवंबर से धरना भूख हड़ताल पर बैठी हुई हैं। अपनी मांगों को लेकर वह यहां भाजपा की जन विश्वास रैली में आए उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा से भी मिल उन्हें ज्ञापन दिया था लेकिन अभी तक सरकार की ओर से कोई सकारात्मक पहल नहीं की गई है।

Comments