किसी नियम को नहीं मानते मेडिकल स्टोर संचालक, बेच रहे हैं नशीली दवाएं

किसी नियम को नहीं मानते मेडिकल स्टोर संचालक, बेच रहे हैं नशीली दवाएं

 मुरादनगर। सरकार ने दवा बेचने के लिए मेडिकल स्टोर चलाने के लिए कई नियम बनाए हुए हैं लेकिन यहां सरकारी नियम कायदों को ताक पर रखकर मेडिकल स्टोर चल रहे हैं। यहां तक कि कुछ मेडिकल स्टोर ऐसे भी हैं जिन पर दवा बेचने वाले ठीक से लिख पढ़ भी नहीं सकते लेकिन स्टोर धड़ल्ले से चला रहे हैं। यहां तक की कुछ लोग मेडिकल स्टोर के नाम पर नशीली दवाओं का घातक व्यापार कर रहे हैं। जिसमें नशे की दवाओं के कई गुना दाम लेकर नशे की खुराक बेची जाती हैं आसानी से मिल जाने के कारण कम उम्र के बच्चे भी नशे के शिकार हो रहे हैं। मेडिकल स्टोर चलाने के लिए एक फार्मेसिस्ट होना आवश्यक होता है। लेकिन यहां नगर व देहात क्षेत्र में बड़ी संख्या में ऐसे मेडिकल स्टोर चल रहे हैं जिन पर फार्मेसिस्ट होना दूर की बात है स्टोर संचालक दवाइयों को उनके रैपर से पहचान कर दवा बेचते हैं। लाल रैपर बुखार का हरा दर्द का यह उनकी पहचान है। खानापूर्ति के लिए कुछ  स्टोर संचालकों ने फार्मेसिस्टों के कागज किराए पर लिए हुए हैं। 1 फार्मेसिस्ट के नाम पर कई कई मेडिकल स्टोर चल रहे हैं। नियमानुसार अस्पताल मेडिकल स्टोर आदि में भी यदि दवा बेची जानी होती है उसके लिए भी फार्मेसिस्ट के साथ अन्य कई नियमों का पालन करना आवश्यक होता है। लेकिन यहां किसी पर कोई नियम लागू नहीं होता या कोई मानता नहीं। औषधि निरीक्षक चिकित्सा विभाग इन सब की जांच रोकथाम नियमों का पालन कराने के लिए उत्तरदाई है। लेकिन संबंधित विभाग के अधिकारी इस ओर आंख उठाकर भी नहीं देखते की कहां क्या हो रहा है। नर्सिंग होम डॉक्टर भी अपने यहां दवाओं की बिक्री करते हैं लेकिन किसी के पास बिक्री के लिए वैद्य लाइसेंस नहीं है। विभागीय अधिकारी कभी-कभी खानापूर्ति के लिए छापे मारी करते हैं लेकिन वह भी अपना मतलब सिद्ध होते ही उस ओर से मुंह मोड़ लेते हैं। नगर के गली मोहल्ला में बैठे झोलाछाप डॉक्टरों ने अपनी दुकानों को पूरे मेडिकल स्टोर के रूप में बनाया हुआ है वहीं से मरीजों को दवाइयां दी जाती हैं। जिनके मनमाने रेट तो लिए ही जाते हैं। दवा की गुणवत्ता किस श्रेणी की है इसका कोई जवाब किसी के पास नहीं होता। कभी-कभी ऐसे झोलाछाप स्टोर संचालकों के कारण लोगों की जान पर भी बन आती है। इस बारे में  संबंधित विभाग के अधिकारी से संपर्क करने का प्रयास किया लेकिन संपर्क नहीं हो सका।

Comments