बैंक ऑफ इंडिया के प्रधान कार्यालय मुंबई से महाप्रबंधक सुशांत शेखर दास नोएडा पहुंचे
बैंक ऑफ इंडिया के प्रधान कार्यालय मुंबई से महाप्रबंधक सुशांत शेखर दास नोएडा पहुंचे

 

कारोबार में वृद्धि, ग्राहकों की सुविधाओं और प्रबन्धकों की समीक्षा बैठक हुई सम्पन्न

 

 

नोएडा। शनिवार को बैंक ऑफ इंडिया के प्रधान कार्यालय मुंबई से महाप्रबंधक सुशांत शेखर दास बैंक के गाज़ियाबाद अंचल में हो रहे कारोबार में वृद्धि, ग्राहकों की सुविधाओं तथा प्रबन्धकों की समीक्षा बैठक हेतु आंचलिक नोएडा आए। जिनका स्वागत गाज़ियाबाद अंचल के आंचलिक प्रबंधक विवेकानंद दूबे तथा उप आंचलिक प्रबंधक सतीश कुमार वर्मा ने किया । 

 


    महाप्रबंधक सुशांत शेखर दास  ने ग्राहकों, अधिकारियों एवं स्टाफ सदस्यों के समक्ष बैंकिंग से जुड़े सभी पहलुओं पर विस्तृत विचार- विमर्श किया और उनका मार्ग दर्शन किया। साथ ही उन्होंने सभी स्टाफ सदस्यों को उनके सक्रिय योगदान हेतु ढेर सारी बधाइयाँ दी कि उन सभी के योगदान से बैंक ऑफ इंडिया, गाज़ियाबाद अंचल ने जमा, अग्रिम, कृषि, विपणन, थर्ड पार्टी प्रोडक्ट, सरकारी कारोबार आदि सभी कोर सेक्टर में वित्तीय वर्ष 2019-20 में उल्लेखनीय प्रगति की है।

 उन्होंने समीक्षा बैठक के दौरान उपस्थित शाखा प्रबंधकों को एनपीए प्रबंधन हेतु पूरा दिशा निर्देश एवं मार्गदर्शन दिया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि बढ़ते हुए एनपीए पर भारत सरकार काफी गंभीर है। 

वित्त मंत्रालय एवं भारतीय रिजर्व बैंक का स्पष्ट निर्देश है कि यदि किसी बैंक के उधारकर्ता बिना किसी कारण के समय पर ऋण नहीं जमा करते हैं, तो उन पर सख्ती से कार्रवाई करें। उन्होंने उपस्थित शाखा प्रबंधकों से आग्रह किया कि ऋण वसूली में कोई कोताही नहीं बरतें। उन्होंने बताया कि ग्राहकों को एक मुश्त समझौते के बारे में जानकारी दी जाये तथा इस संबंध में आगे आने वाले ग्राहकों की हर संभव मदद की जाये। 

उन्होंने सभी शाखा प्रबंधकों को स्पष्ट निर्देश दिया कि वे अपने सभी स्टाफ सदस्यों को समझाएं कि ग्राहक हमारी संस्था की रीढ़ हैं, और वे सभी ग्राहकों के साथ संयमित व्यवहार करें। सदैव कृषि के विकास के लिए प्रतिबद्धता दिखाते हुए उन्होने शाखा प्रबन्धकों को कृषि क्षेत्र में कृषि आधारित उद्योगों पर अधिक से अधिक ऋण प्रदान करने के लिए प्रेरित किया।

 वित्तीय समावेशन पर ज़ोर देते हुए कहा कि इस हेतु विशेष प्रयास की आवश्यकता है और इस संबंध में आम जन की सभी बैंकिंग आवश्यकता की पूर्ति हमारा कर्तव्य भी है। उन्होने सुकन्या समृद्धि स्कीम, अटल पेंशन योजना, प्रधान मंत्री जीवन ज्योति स्कीम, प्रधान मंत्री जनधन योजना, प्रधान मंत्री जीवन सुरक्षा बीमा योजना के प्रचार पर ज़ोर दिया। इससे आम जन के उत्थान के साथ ही साथ बैंक भी प्रगति पथ पर आगे बढ़ेगा। नारी सशक्तिकरण के लिए महिलाओं के स्वयं सहायता समूहों को ऋण वितरण पर बल दिये जाने पर ज़ोर दिया जाये । 

    आंचलिक प्रबंधक विवेकानंद दूबे ने इस कार्यक्रम के दौरान इस अंचल की वर्तमान तिमाही में हो रही प्रगति पर विचार- विमर्श करने के साथ-साथ इस वित्तीय वर्ष 2019-20 में प्रधान कार्यालय द्वारा गाज़ियाबाद अंचल को दिए गए लक्ष्यों के बारे में उपस्थित शाखा प्रबंधकों एवं महाप्रबंधक महोदय को अवगत कराया । उन्होंने शाखा प्रबन्धकों से शाखाओं में कार्यावधि के दौरान होने वाली समस्याओं की जानकारी भी ली और उनसे सुझाव भी मांगे, ताकि भविष्य में बैंक अपने ग्राहकों को और अधिक उत्तम एवं त्वरित सेवा दे सके । गाज़ियाबाद अंचल की शाखाओं की प्रगति समीक्षा के दौरान कृषि ऋणों, उद्योग एवं सेवाओं के लिए ऋण, शिक्षा ऋण, आवास ऋण एवं प्रॉपर्टी पर ऋण जैसी योजनाओं पर भी विशेष चर्चा की गई । 

    उन्होंने बैंक के लक्ष्यों की प्राप्ति हेतु एक विशेष नीति बनाने के लिए प्रोत्साहित भी किया कि हमारी कार्यप्रणाली ऐसी हो कि सभी स्टाफ सदस्य अपने सामर्थ्य का अधिकतम उपयोग करें, ताकि अपने संस्थान को एक नई ऊंचाई मिल सके। साथ ही, उन्होंने यह भी कहा कि कार्य-प्रगति लगातार होनी चाहिए।

उन्होंने स्टाफ सदस्यों से कहा कि वे अपने सभी ग्राहकों को बैंकिंग कारोबार से जुड़ी सभी आधुनिकतम तकनीकी सेवाओं की जानकारी दें, उसका प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित करें, जिससे निश्चित रूप से त्वरित और उत्तम सेवा न सिर्फ ग्राहकों को मिलेगी, बल्कि हमारे बैंकिंग कारोबार में भी वृद्धि होगी। ग्राहक सेवा को और सुदृढ़ किए जाने पर बल दिया जाना चाहिए । 

    इस अवसर पर उप आंचलिक प्रबंधक सतीश कुमार वर्मा ने उपस्थित सभी शाखा प्रबंधकों को कहा कि जितने भी ऋण प्रस्ताव आ रहे हैं। उनका त्वरित गति से निष्पादन किया जाए। यदि कोई दस्तावेज में कमी है तो तुरंत ऋण चाहने वाले व्यक्ति को बताया जाए। जिससे कि वह समय रहते सभी आवश्यक दस्तावेजों को बैंक में जमा कर ऋण प्राप्त कर सके और अपने सपने को साकार कर सके।

    इस कार्यक्रम के दौरान वित्तीय वर्ष 2019-20 में जिन शाखाओं ने दिए गए लक्ष्यों के प्रति अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्हें बैठक के दौरान सम्मानित भी किया गया।

Comments